आतंकवादी भारतीय सीमा में आए तो जमीन में गाड़ देंगे: सेना प्रमुख

नई दिल्ली ( 25 सितंबर ): सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने कहा है कि अगर आतंकी भारत में आएंगे तो हम उन्हें ढाई फुट नीचे भेजते रहेंगे। एक प्रोग्राम के दौरान रावत ने कहा कि सरहद के उस पार जो आतंकवादी हैं। वो तैयार बैठे हैं। हम भी उनके लिए इस तरफ तैयार बैठे हैं। सर्जिकल स्ट्राइक के जरिए ये मैसेज दिया गया था कि अगर सामने वाला (पाकिस्तान) नहीं समझा तो इसे दोबारा किया जा सकता है। खुफिया सूत्रों के मुताबिक सीमा पार नियंत्रण रेखा के नजदीक पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (PoK) में लांचिंग पैड पर 759 आतंकी भारत में घुसपैठ के लिए तैयार बैठे हैं। इनमें से करीब 112 आतंकी उरी सेक्टर के पास सीमा पार कैंप कर रहे हैं।

पाकिस्तान पर भारत की सर्जिकल स्ट्राइक को एक साल पूरा होने जा रहा है। इस मौके पर जहां पाकिस्तान अपनी हार का बदला लेने के नापाक साजिशें रच रहा है, वहीं भारतीय सुलक्षाबल उसे मुंहतोड़ जवाब देने के लिए तैयार बैठे हैं। बिपिन रावत ने सोमवार को खुले तौर पाकिस्तान से आने वाले आतंकियों को चेतावनी दी है। रावत ने कहा, 'सरहद के उस पार जो आतंकवादी हैं, वो तैयार बैठे हैं। हम भी उनके लिए इस तरफ तैयार बैठे हैं'।

इतना ही नहीं जनरल रावत ने इससे आगे बढ़कर बेहद सख्त अंदाज में आतंकियों को चेताया। उन्होंने कहा, 'वो (आतंकवादी) इधर आएंगे, हम उनको रिसीव करके, ढाई फीट जमीन के नीचे भेजते रहेंगे'।

वहीं दूसरी तरफ एक और बड़ी जानकारी इस संबंध में सामने आई है। जम्मू-कश्मीर के उरी सेक्टर में जैश-ए मोहम्मद के जिन 4 आतंकियों को ढेर किया गया है, वो दरअसल सर्जिकल स्ट्राइक का बदला लेने की रणनीति के तहत ही वहां आए थे। मगर, सुरक्षाबलों ने पहले ही उनके नापाक इरादों को खाक कर दिया।