एलओसी पर पहुंचे सेना प्रमुख बिपिन रावत, कहा- दुश्मनों को दें मुंहतोड़ जवाब

नई दिल्ली (28 जुलाई): सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत सुरक्षा हालात का निरीक्षण करने और नियंत्रण रेखा पर तैनात सशस्त्र बलों की तैयारियों का जायजा लेने जम्मू पहुंचे। जनरल बिपिन रावत ने शुक्रवार को एलओसी के फारवर्ड इलाकों का दौरा कर सुरक्षा हालात का जायजा लिया। इस दौरान उन्होंने जवानों को सतर्क रहने तथा हर वक्त तैयार रहने को कहा। दुश्मनों की नापाक हरकतों का मुंहतोड़ जवाब देने की हिदायत दी। 

जनरल रावत शुक्रवार सुबह व्हाइट नाइट कोर मुख्यालय पहुंचे। उन्होंने राजौरी तथा अखनूर सेक्टर का दौरा कर एलओसी पर सुरक्षा तैयारियों को परखा। इस दौरान उन्हें एश आफ स्पेड्स तथा क्रास्ड स्वार्ड्स डिवीजन के जीओसी ने एलओसी पर किए गए सुरक्षा इंतजाम तथा घुसपैठ रोकने के लिए उठाए जा रहे कदमों की जानकारी दी।

उन्होंने फारवर्ड पोस्टों का भी दौरा किया। इस दौरान उन्होंने घुसपैठ रोकने के लिए सेना की ओर से किए जा रहे प्रयासों के बारे में जाना। उन्होंने काउंटर इंफिल्ट्रेशन ग्रिड को और मजबूत करने पर जोर देते हुए कहा कि हर हाल में घुसपैठ रोकी जानी चाहिए।

एलओसी पर तैनात जवानों से भी उन्होंने बातचीत की। जवानों की हौसला आफजाई करते हुए उन्होंने जवानों को हर वक्त सतर्क रहने तथा किसी भी स्थिति से मुकाबला करने के लिए तैयार रहने को कहा। एलओसी पर बिल्कुल पैनी निगाह रहनी चाहिए।

दुश्मन की किसी भी नापाक हरकत का मुंहतोड़ जवाब दिया जाना चाहिए। उन्होंने एलओसी पर तैनात जवानों को उपलब्ध सुविधाओं के बारे में भी जानकारी ली। साथ ही जवानों से कहा कि विपरीत परिस्थितियों में भी देश की रक्षा के लिए उनके योगदान को भुलाया नहीं जा सकेगा।

ज्ञात हो कि इससे पहले अमरनाथ यात्रियों पर अनंतनाग जिले में हुए हमले के बाद उन्होंने घाटी का दौरा कर सुरक्षा हालात की समीक्षा की थी।