पुलवामा एनकाउंटर में आतंकियों के पास से M4 कर्बाइन मिलने पर ये बोले सेना प्रमुख

नई दिल्ली(7 नवंबर): जम्मू एवं कश्मीर के पुलवामा में हुई मुठभेड़ में सुरक्षाबलों ने जैश-ए-मोहम्मद के तीन आतंकवादी को मार गिराया। मारे गए आतंकवादियों में जैश-ए-मोहम्मद का सरगना मसूद अजहर का भतीजा तल्हा रशीद भी है। मुठभेड़ के बाद आतंकियों के पास से बड़ी मात्रा में हथियार भी बरामद हुए हैं। आतंकियों के पास से एक एम-4 कर्बाइन भी बरामद हुई है। 

- सेना प्रमुख बिपिन रावत ने आतंकियों के पास से बरामद एम-4 कर्बाइन के बारे में प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि इससे साफ जाहिर है कि सरहद पार से आतंकियों को लगातार मदद पहुंचायी जा रही है। सेना प्रमुख ने कहा कि आतंकियों को निष्क्रिय करने के लिए घाटी में लगातार सेना के अभियान और आतंकवाद में शामिल लोगों को मुख्यधारा में लाने के प्रयास चलते रहेंगे।  

- पुलवामा में हुए मुठभेड़ के बारे में सेना ने प्रेस ब्रीफिंग की। सेना और पुलिस के अधिकारियों ने कहा कि सोमवार को पुलवामा में चला ऑपरेशन काफी पेशेवर था। सेना के अधिकारियों ने लोगों से अपील की कि वे पत्थरबाजी की घटनाओं और आतंकियों को मदद पहुंचाने से दूर रहें। यह पूछे जाने पर कि आतंकियों के पास से एम-16 राइफल मिलना चिंता का कारण है, इस पर सेना के एक अधिकारी ने कहा कि इसकी पूरी जांच की जाएगी कि यह हथियार उन तक कैसे पहुंचा।    - सेना ने मीडिया ब्रीफिंग में कहा कि जैश-ए-मोहम्मद ने पहली बार पाकिस्तानी नागरिक को अपने संगठन में शामिल किया है। हम पाकिस्तान से कहेंगे कि वह मारे गए आतंकवादी का शव वापस ले।