कश्मीर 'सुपर 40' के छात्रों से आर्मी चीफ बिपिन रावत ने की मुलाकात

नई दिल्ली ( 13 जून ): आर्मी चीफ बिपिन रावत ने मंगलवार को जम्मू-कश्मीर के सुपर 40 के बच्चों से मुलाकात की।  कश्मीर की अशांति के बीच आर्मी द्वारा शुरू किए गए "सुपर 40 कोचिंग के 28 बच्चों ने इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा पास करते हुए रिकॉर्ड कायम किया है।

कश्मीर में जहां एक ओर आतंकी युवाओं को आकर्षित करने की पुरी कोशिश कर रहे हैं। ISI अपनी कोशिशों में लगा है। पाक प्रायोजित आतंकवाद और शांतिभंग की घटनाओं से बचाने के लिए भारतीय सेना ने कुछ ऐसा किया है जिससे कि राज्य के 9 नौजवान युवाओं का इंजिनियर बनने का सपना हकीकत बन सकेगा। सुपर 40 के 26 लड़कों और दो लड़कियों ने आईआईटी-जेईई मेन - 2017 में सफलता हासिल की है. इनमें से 9 लड़कों ने IIT एडवांस में भी सफलता हासिल की है।

राज्य के इन छात्रों ने सेना की मदद से कोचिंग लेकर इंजिनियरिंग सेक्टर की प्रतिष्ठित आईआईटी-जेईई मेंस और ऐडवांस प्रवेश परीक्षा पास की है। मंगलवार को थलसेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने सेना मुख्यालय में इनसे मुलाकात कर हौसलाफजाई की और छात्रों को बधाई दी।

भारतीय फौज ने इनको कोचिंग श्रीनगर में सेना के ट्रेनिंग पार्टनर सेंटर फॉर सोशल रिस्पॉन्सिबिलटी ऐंड लर्निंग (सीएसआरएल) और पेट्रोनेट एलएनजी की मदद से दिलाई।

इन बच्चों ने आईआईटी-जेईई के अलावा देश के अन्य इंजिनियरिंग कॉलेजों में ऐडमिशन के लिए होने वाली परीक्षाओं में अच्छा परफॉर्म किया है।

कश्मीर के युवाओं को पत्थरबाजी और आतंक के खेल से दूर ले जाने का आर्मी का यह प्रयास वाकई सराहनीय है।