हमेशा जवान दिखना चाहते हैं तो मानें ये 10 टिप्स

नई दिल्ली (17 मार्च) :  क्या आपको त्वचा (स्किन) को देखकर लगने लगा है कि उम्र का असर आप पर होने लगा है। ये कुछ भी हो सकता है- झुर्रियां, माथे, होठों और आंखों के पास लाइन्स, एज स्पॉट्स। अगर आप इन्हें देखकर तुरंत महंगी एंटी एजिंग क्रीम का सहारा लेने की सोच रहे हैं तो ठहरिए। क्यों नहीं आप लाइफस्टाइल में ऐसे परिवर्तन करते जिनसे आप उम्र बढ़ने की इन निशानियों को टाल सकें। हम दे रहे हैं इसके लिए आपको 10 टिप्स।

1. धूप से बचें-  झुर्रियों का सबसे बड़ा कारण धूप को माना गया है। जब सूरज अपना पूरा प्रकोप दिखा रहा हो तो खुले में निकलना खतरनाक होता है। अपनी त्वचा को सूरज की सीधी किरणों से बचाएं। बाहर निकलना ज़रूरी हो तो अच्छे एसपीएफ वाली सनस्क्रीन लगाएं। बाहर निकलने से 20-30 मिनट पहले इसे लगाएं। फिर कुछ कुछ घंटों बाद इसे रिपीट करें।  

2. खूब पानी पिएं-  शरीर में अपर्याप्त हाइड्रेशन शरीर पर झुर्रियां पड़ने का दूसरा सबसे बड़ा कारण है। अपनी त्वचा को नम और लचीली रखने के लिए लगातार पानी की आपूर्ति की ज़रूरत होती है। अगर लिक्विड इनटेक पर्याप्त नहीं होता तो त्वचा पर झुर्रियां दिखनी शुरू हो जाती हैं।

3. स्मोकिंग छोड़ें-  धूम्रपान या स्मोकिंग के सेहत पर कई घातक असर होते हैं। उनमें से एक ये भी है कि त्वचा कम उम्र में ही एजिंग का शिकार होने लगती है। स्मोकिंग से त्वचा को खून की आपूर्ति और पोषण पर असर पड़ता है। धुआं भी आंख, मुंह और नाक के आसपास बुरा असर डालता है।  

4 पौष्टिक खाना खाएं-  ऐसी डाइट लें जो विटामिंस से भरपूर हो। ताजा फल, सब्जियों के साथ नट्स भी लें। इनमें एंटीऑक्सीडेंट्स होते हैं जो एजिंग को टालने में सहायक होते हैं।

5. तनाव से दूर रहें-  तनाव के वक्त कॉर्टिसोल जैसे हारमोन्स रिलीज़ होते हैं। ये हारमोन्स त्वचा के नीचे मस्कुलर टिश्यूज़ को ढीला कर देते हैं। इससे आपकी त्वचा पतली और झुर्रियों वाली दिखने लगती है।

6. माश्चेराइज़र का इस्तेमाल करेः आजकल खास तौर पर महिलाएं एंटी एजिंग प्रोडक्ट्स का खूब इस्तेमाल करती हैं लेकिन साधारण माश्चेराइज़र का महत्व भूल जाती है।

7. चेहरे को ज़्यादा धोने से बचें-  टैप वॉटर त्वचा के प्राकृतिक तेलों और नमी के लिए नुकसानदायक होता है। इसकी वजह से भी झुर्रियां जल्दी दिखने लगती है। जितनी बार चेहरा धोया जाता है उतनी बार इस नुकसान का ख़तरा ज़्यादा हो जाता है। अगर आपके साबुन में माश्चराइज़र्स नहीं होते तो क्लीन्सर का इस्तेमाल करना चाहिए।

8. पर्याप्त नींद लीजिए-  जब आप पर्याप्त नींद नहीं लेते तो भी शरीर अधिक कॉर्टिसोल हारमोन निकालने लगता है। ये हारमोन त्वचा की कोशिकाओं को नष्ट करता है। पर्याप्त नींद लेने पर शरीर  ह्यूमन ग्रोथ हारमोन (HGH) का अधिक उत्पादन करता है। इससे त्वचा मज़बूत, लचीली होती है। झुर्रियों का ख़तरा भी कम होता है। आप कम थके लगते हैं और आपके चेहरे की चमक बढ़ती है।  

9. फेस योगा करें-  योग से आपके मस्तिष्क और शरीर पर अच्छा असर पड़ता है। फेस योगा चेहरे की ऐसी कसरतें है जो आपके चेहरे को सदाबहार बनाए रखती हैं।

10 डर्मेटोलॉजिस्ट से संपर्क करें- अगर आप त्वचा की एजिंग को टालने के लिए विभिन्न तरह के रसायनों, क्रीम, लोशंस के अलावा सर्जिकल विकल्प (पील्स, फिलर्स, लेज़र्स और बोटोक्स) अपनाना चाहती हैं तो इसके लिए पहले किसी अच्छे डर्मेटोलॉजिस्ट से ज़रूर राय लें। वो आपकी त्वचा के परीक्षण से आपको सही राय देगा।