''अटल पेंशन योजना के अंशधारकों की संख्या मार्च 2018 तक हो जाएगी 1 करोड़''

नई दिल्ली ( 13 अक्टूबर ): वित्त मंत्रालय ने शुक्रवार को बताया कि अटल पेंशन योजना (एपीवाई) के तहत अंशधारकों की संख्या अगले वर्ष मार्च तक बढ़कर एक करोड़ पहुंच जाने का अनुमान है। अटल पेंशन योजना लोगों को निश्चित पेंशन की गारंटी देती है।

वित्तीय सेवा सचिव राजीव कुमार ने पेंशन कोष नियामक एवं विकास प्राधिकरण पीएफआरडीए द्वारा आयोजित कार्यक्रम में अपने वीडियो संदेश में कहा, एपीवाई न केवल सरकार की महत्वपूर्ण योजना है बल्कि यह समावेश का भी एक प्रमुख जरिया है। तीन साल के भीतर योजना के तहत करीब 69 लाख खाते खुले। उन्होंने कहा कि देश में पेंशन का दायरा सीमित है, दूसरी तरफ बड़ी आबादी है, इसको देखते हुए इस क्षेत्र में अभी लंबा रास्ता तय करना है।

कुमार ने कहा, प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना पीएमजेजेवाई और प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना पीएमएसबीवाई के अंतर्गत जब ग्राहकों की संख्या 13 करोड़ हो सकती है, मुझो नहीं लगता कि एपीवाई पीछे रहेगी। हमने इस साल एक करोड़ का लक्ष्य रखा है जिसे 31 मार्च तक पूरा कर लिये जाने की संभावना है।

अटल पेंशन योजना को आधार से जोड़े जाने के बारे में कुमार ने कहा कि फिलहाल 40 प्रतिशत खातों को आधार से जोड़ दिया गया है।