अगर दिखें ये अपशकुन तो शुरू ना करें कोई शुभ काम

नई दिल्ली (29 मई): अकसर हमारा कोई काम बनते-बनते बिगड़ जाता है और हम काफी परेशान हो जाते हैं, लेकिन रामचर‌ित मानस और महाभारत सह‌ित कई पौराण‌िक ग्रंथों में शकुन (अच्छे संकेत) और अपशकुन (बुरे संकेत) का ज‌िक्र क‌िया गया है। कुछ अपशकुन तो इतने खतरनाक माने गए हैं कि व्यक्त‌ि को मृत्यु के समान कष्ट भोगना पड़ सकता है।

तो आइए हम आपको बतातें हैं कुछ ऐसे अपशकुन के बारे में जिन्हें जानकर आप दुआ करें कि ये आपके साथ ना हों:

शकुन शास्‍त्र में कौए से संबंध‌ित कई शुभ और अशुभ शकुन का ज‌िक्र क‌िया गया है, इसमें कहा गया है क‌ि कौआ का मैथुन करते हुए द‌ेखना बहुत ही अशुभ होता है। इसका सीधा-सा संकेत व्यक्त‌ि को गंभीर बीमारियों का सामना करना हो सकता है। साथ ही कुछ लोग तो यहां तक मानते हैं क‌ि यह मृत्यु का संकेत होता है। व्यक्ति के स‌िर के ऊपर कौए, चील और गिद्ध का बैठना भी मृत्यु के समान ही कष्ट का सूचक माना जाता है। ऐसे में व्यक्त‌ि को गंभीर रोग का सामना करना पड़ सकता है।

शकुनशास्त्र के अनुसार व्यक्ति को अपनी परछाई में यदि छेद द‌‌िखताहै तो इसे अच्छा नहीं माना जाता है। शास्‍त्रों के अनुसार यह मृत्यु के न‌िकट होने का संकेत होता है।

सपने में खुद को तेल लगाते हुए देखना या कहे कि कोई आपकी मालिश कर रहा है तो इसे भी अशुभ सपना जाता है, जो व्यक्त‌ि को मृत्यु के समान कष्ट देता है।

इसके अलावा सपने में भूत-प्रेतों के पीछे खुद को भागते हुए देखना भी मृत्यु तुल्य कष्ट का सूचक माना जाता है। अर्थात जब आपको ऐसे सपने आए या फिर आपके साथ ऐसा कुछ ऐसा हो जाए जो अपशकुन लगता हो तो यात्रा को थोड़ा विराम दें या यदि यात्रा पर नहीं निकलें हो तो एक-दो दिन के लिए यात्रा टाल दें। ऐसा करना आपके लिए हितकारी होगा।