137 सालों में दूसरा सबसे गर्म महीना रहा अप्रैल

नई दिल्ली ( 16 मई ): इस साल ने गर्मी ने अभी से सारे रिकाॅर्ड तोड़ने शुरू कर दिए हैं। 2017 में अप्रैल का महीना पिछले 137 साल में दूसरा सबसे गर्म महीना रहा। अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा ने दुनिया में तापमान के आधुनिक रिकॉर्ड के मुताबिक यह जानाकारी दी।


पिछले दो सालों से अप्रैल गर्मी के सारे रिकॉर्ड ध्वस्त करता चला आ रहा है। पिछले साल अप्रैल में गर्मी ने 1951 से लेकर 1980 के सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए थे। इस बार 2017 में अप्रैल में सामान्य से 0.88 सेल्सियस ज्यादा रहा।


अभी तक 2016 में अप्रैल का महीना सामान्य वर्षों की तुलना में 1.06 डिग्री सेल्सियस ज्यादा गर्म था। अप्रैल 2017 का तापमान अप्रैल 2016 से 0.18 डिग्री कम गर्म था। इससे पहले 2010 में अप्रैल में सबसे ज्यादा गर्मी पड़ी थी। नासा के एक स्पेस स्टडी इंस्टीट्यूट GISS में कुछ रिसर्चर्स ने पूरी दुनिया के लगभग 6,300 मौसम विज्ञान केंद्रों से डेटा इकट्ठा किया और यह जानकारी दी।


भारत की राजधानी दिल्ली में 17 अप्रैल का दिन पिछले सात सालों में अप्रैल महीने का सबसे गर्म दिन था। उस दिन शहर में पारा 43 डिग्री को पार कर गया। 1880 में आधुनिक वैश्विक तापमान को रेकॉर्ड करना शुरू किया गया था।