पाकिस्तान रेलवे में 10 अरब रुपए का घोटाला

लाहौर (15 अगस्त): पाकिस्तान रेलवे के आंतरिक ऑडिट ने अपनी रिपोर्ट में 10 अरब रुपए के घोटाले का पता लगाया है। पाकिस्तान रेलवे पहले ही 28 अरब रुपए से अधिक के संचयी घाटे और भ्रष्टाचार के ढेरों मामलों से घिरी हुई है।

रिपोर्टों के अनुसार, मुल्तान के सब डिवीजन डेरा गाजी खान में रेलवे की 4147.8 एकड़ भूमि पर उसका कब्जा नहीं है। इसकी कीमत 41.478 अरब रुपए है। रिपोर्ट में इसके लिए रेलवे मंत्री ख्वाजा साद रफीक को जिम्मेदार ठहराया गया है। अधिकारियों की मिलीभगत से इसका कुछ हिस्सा बेचा भी गया।

रिपोर्ट के अनुसार पाकिस्तान रेलवे में तीन अरब, 49 करोड़ रुपए की लागत वाली डीई लोकोस परियोजना में अनियमित खर्च हुए हैं। परियोजनाओं के लिए सामग्री के अनियमित हस्तांतरण के कारण 1,300 करोड़ रुपए का नुकसान हुआ। एक अन्य घोटाले में खुशहाल खान खट्टक एक्सप्रेस, बोलन मेल, हजारा एक्सप्रेस और फरीद एक्सप्रेस ट्रेनों के प्रबंधन ने मंत्री का कृपा पात्र बनने के लिए नियमों का उल्लंघन किया।