अनुप्रि‍या के मंत्री बनने के बाद अपना दल ने तोड़ा बीजेपी से गठबंधन

नई दिल्ली(8 जुलाई): अनुप्रिया पटेल के मंत्री बनने के बाद अपना दल ने बीजेपी से अपना गठबंधन तोड़ दिया है। अपना दल की अध्यक्ष कृष्णा पटेल ने पार्टी वर्किंग कमेटी की बैठक में इसका ऐलान किया। 

आपको बता दें कि अपना दल में वर्चस्व को लेकर अनुप्रिया की अपनी बहन पल्लवी पटेल से जंग छिड़ी हुई थी। इसमें मां कृष्णा पटेल, पल्लवी के साथ हैं। बता दें कि मोदी कैबिनेट में अनुप्रिया को स्वास्थ्य राज्यमंत्री बनाया गया है। 

अनुप्रि‍या पटेल 2014 में सांसद बनने से पहले अपना दल से रोहनि‍यां सीट से वि‍धायक रह चुकी हैं। 2014 में सांसद बनने के बाद अनुप्रि‍या के वर्चस्‍व को रोकने के लि‍ए मां कृष्‍णा पटेल ने बड़ी बेटी पल्‍लवी को वाइस प्रेसिडेंट बना दि‍या था। पार्टी के संवि‍धान में वाइस प्रेसिडेंट पद न होने के वि‍रोध में अनुप्रि‍या और कृष्‍णा पटेल के रि‍श्‍तों में दरार आ गई।

इस मामले को लेकर कृष्‍णा पटेल ने 2015 में अनुप्रि‍या पटेल को पार्टी से बाहर का रास्‍ता दि‍खा दि‍या था। इसके वि‍रोध में अनुप्रि‍या ने पार्टी की बैठक बुलाकर खुद प्रेसिडेंट बन गईं।