'EVM ने नहीं करीबियों ने हराया, नेता कर सकते थे मदद'


लखनऊ(3 अप्रैल): मुलायम सिंह यादव की बहू अपर्णा यादव ने यूपी विधानसभा चुनाव में हार का जिम्मेदार अपने करीबियों को बताया है।


- उन्होंने कहा, "हार ईवीएम में गड़बड़ी की वजह से नहीं, बल्कि करीबियों की वजह से हुई है। अगर ईवीएम में गड़बड़ी के चलते ऐसा हुआ है तो चुनाव रद्द होने चाहिए।"


- अपर्णा यादव रविवार को लखनऊ के कैंट में एक धन्यवाद समारोह में पहुंची थीं। उन्होंने कहा- ''अपनों से जब चोट लगती है तो घाव बहुत ही गंभीर होता है। मुझे अपनों से बहुत चोट मिली है।''


- अपर्णा के मुताबिक, ''हार कभी-कभी आपको बहुत कुछ सिखा जाती है। इस हार से मुझे भी वह चश्मा मिल गया जिससे मैं अपने और पराए की पहचान कर सकती हूं।''


- साथ ही शायराना अंदाज में अपर्णा ने कहा, ''मेरी कश्ती वहां आकर डूब गई, जहां साहिल करीब था।''


- अपर्णा ने कहा, ''आप लोग एक बार महाभारत उठा कर देखिए। भगवान श्रीकृष्ण अर्जुन के सारथी थे, वे संपूर्ण त्रिलोक के स्वामी थे। वह जब अर्जुन के सारथी बनकर साथ दे सकते थे तो कैंट के बड़े नेता भी श्रीकृष्ण बनकर मेरा साथ दे सकते थे।''


- ''शायद मेरी किस्मत में लोहिया जी जैसे उन बड़े नामों से जुड़ना लिखा है, जो पहली बार हारने के बाद देश के बड़े नेता बनकर उभरे और उनका नाम इतिहास के पन्नों में स्वर्णिम अक्षरों में लिखा गया। हार और जीत जीवन का क्रम है और हार से सीखकर हमें आगे बढ़ने की जरूरत है।''