सलमान पर भड़के अनुराग कश्यप, कहा...

नई दिल्ली(22 जून): फिल्मकार अनुराग कश्यप ने बलात्कार पीड़िता से तुलना करने को लेकर अभिनेता सलमान खान की आलोचना करते हुए कहा कि उनका इस तरह की टिप्पणी करना ‘सोच की कमी’ और ‘मूखर्ता’ है। उन्होंने साथ ही सलमान का साक्षात्कार करने वाले पत्रकार के उनकी टिप्पणी पर कथित रूप से हंसने को लेकर भी सवाल किया।

गौरतलब है कि कुश्ती पर आधारित फिल्म ‘सुल्तान’ के लिए कड़ा प्रशिक्षण लेने वाले अभिनेता ने एक सामूहिक साक्षात्कार में कहा है कि फिल्म ‘सुल्तान’ के एक खास दृश्य की थका देने वाली शूटिंग करने के बाद उन्होंने एक ‘बालात्कार पीड़िता’ की तरह महसूस किया।

सलमान ने कहा कि उन छह घंटों की शूटिंग के दौरान, मुझे बहुत भार उठाना पड़ता था और धक्का देना पड़ता था। यह करना मेरे लिए बहुत मुश्किल था क्योंकि मुझे 120 किलोग्राम के वजन वाले एक ही व्यक्ति को 10 अलग अलग तरीकों से 10 बार उठाना पड़ता था। और कई बार मैं खुद मैदान में गिर जाता था। सलमान ने कहा कि रिंग में होने वाली असली लड़ाई के दौरान इस तरह के काम को बहुत बार दोहराया नहीं जाता है। जब मैं शूटिंग के बाद रिंग से बाहर आता था, तब मैं एक बलात्कार पीड़िता की तरह महसूस करता था। अभिनेता को लगा कि उन्हें ऐसी तुलना नहीं करनी चाहिए थी इसलिए उन्होंने इसके तुरंत बाद कहा कि मुझे नहीं लगता कि मुझे ऐसा कहना चाहिए।

अनुराग ने कहा कि 50 साल के अभिनेता का ऐसी टिप्पणी करना ‘सोच की कमी और मूखर्ता’ है। निर्देशक ने कहा कि हम इसे केवल एक इंसान की जिम्मेदारी क्यों बना रहे हैं? उनका ऐसी तुलना करना दुर्भाग्यपूर्ण है, यह उनकी विचारशून्यता है, एक तरह से मूखर्तापूर्ण है। मुझे यकीन है कि वह इसपर अफसोस कर रहे होंगे और इसके लिए माफी मांगेंगे। अगर उन्हें सच में परवाह है तो उन्हें इसके लिए माफी मांगनी चाहिए। ऐसी खबरें हैं कि साक्षात्कार लेने वाले पत्रकार सलमान के बयान पर जोर से हंसे थे।

सलमान ने जिस पत्रकार के सवाल के जवाब में यह टिप्पणी की थी, अनुराग ने उस पत्रकार पर निशाना साधते हुए कहा कि उसे बयान को लेकर अभिनेता से सवाल करना चाहिए था। उन्होंने कहा कि लेकिन क्या यह सलमान की अकेले की जिम्मेदारी है? जो व्यक्ति उनका साक्षात्कार ले रहा है, जब वह ऐसी तुलना करते हैं, वह उसपर हंसता है। वह उनसे सवाल नहीं करता। अपने मन में वह सोच रहा है कि मुझे हेडलाइन मिल गई। इसे हेडलाइन का रूप देना कितनी गैरजिम्मेदाराना है।

अनुराग ने कहा कि मैं उसे छोड़ देता। इससे कोई बहुत अच्छा संदेश नहीं जाता, यह महिला विरोधी चीजों को मजबूत करता है। एकाएक लोगों को चिल्लाने के लिए एक मुद्दा मिल गया। सलमान की टिप्पणी से बहुत सारे लोग नाराज हो गए हैं। कई लोगों ने अभिनेता के खिलाफ अपनी नाराजगी के इजहार के लिए ट्विटर का सहारा लिया।

राजनीतिक दलों, सोशल मीडिया उपयोगकर्ताओं और महिला आयोग के अभिनेता से माफी मांगने पर जोर देने के बीच सलमान के पटकथाकार पिता सलीम खान ने अपने बेटे की तरफ से माफी मांगी। उन्होंने माना कि सलमान की टिप्पणी गलत थी।