'सेंसर बोर्ड को KISS और थप्पड़ के बीच फर्क नहीं समझ आता'

नई दिल्ली (22 जुलाई): सेंसर बोर्ड हाल में काफी आलोचना का शिकार होता रहा। इस बार राष्ट्रीय पुरस्कार विजेता फिल्मकार अंजन दत्ता ने भी बोर्ड की कड़े शब्दों में आलोचना की। 

- अंजन दत्ता ने कहा, "बोर्ड के पदों पर गलत लोगों ने कब्जा कर रखा है। जो सिनेमा के मामले में पढ़े लिखे नहीं है।" - सेंसर बोर्ड ने बंगाली फिल्म ‘साहेब बीबी गुलाम’ और कई अन्य फिल्मों में कई दृश्यों को हटाने का सुझाव दिया।  - जिस पर अंजन दत्ता भड़क गए और सेंसर बोर्ड की आलोचना करते हुए कहा कि इसके पदों पर गलत लोगों ने कब्जा कर रखा है।  - दत्ता ने कहा, "वे लोग एक चुंबन और थप्पड़ के बीच का अंतर नहीं जानते हैं। वे सिनेमा के मामले में अशिक्षित हैं।" - वह ‘साहेब बीबी गुलाम’ के ट्रेलर लांच पर मीडिया से बात कर रहे थे।