AMU में जिन्ना की तस्वीर पर बवाल, लाठीचार्ज में कई छात्र घायल

नई दिल्ली(2 मई): अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में लगी पाकिस्तान के संस्थापक मोहम्मद अली जिन्ना की तस्वीर पर विवाद गहरा गया है। इसके चलते मंगलवार को AMU के छात्र संघ की ओर से पूर्व उप राष्ट्रपति हामिद अंसारी को मानद आजीवन सदस्यता दिए जाने के कार्यक्रम का भी विरोध हुआ।हिंदू युवा वाहिनी के कार्यकर्ताओं ने जिन्ना की तस्वीर को हटाने की मांग करते हुए AMU के बाहर जमकर विरोध प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारी हामिद अंसारी के कार्यक्रम का भी विरोध कर रहे थे।AMU के छात्र संघ पदाधिकारियों का आरोप है कि विरोध कर रहे लोग हथियार लेकर यूनिवर्सिटी परिसर में घुसने और पूर्व उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी के कार्यक्रम में दखल डालने की कोशिश कर रहे थे।छात्र संघ के पदाधिकारियों के मुताबिक जब प्रदर्शन कर रहे युवाओं ने AMU परिसर में जबरन घुसने की कोशिश की, तो छह  कार्यकर्ताओं को पकड़ लिया गया और फिर पुलिस के हवाले कर दिया गया। छात्र संघ पदाधिकारियों का यह भी आरोप है कि पुलिस ने हिंदू युवा वाहिनी के कार्यकर्ताओं के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की और बिना मामला दर्ज किए छोड़ दिया।इससे नाराज छात्र संघ के पदाधिकारी थाने पहुंचे और हिंदू युवा वाहिनी के कार्यकर्ताओं को छोड़ने का कड़ा विरोध करने लगे। इस दौरान  छात्र एसपी सिटी से धक्का-मुक्की करने लगे। इसके बाद पुलिस ने छात्रों पर लाठीचार्ज कर दिया। इसमें करीब 15 छात्र घायल हो गए।