Blog single photo

AMU विवाद: सीएम योगी ने तलब की रिपोर्ट, कर सकते हैं कड़ी कार्रवाई

पाकिस्तान के क़ायदे-आज़म मोहम्मद अली जिन्ना की तस्वीर उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी (एएमयू) में क्यों? बीजेपी सांसद सतीश गौतम के इस सवाल पर सियासी बवाल जारी है। इस बीच सीएम योगी आदित्यनाथ ने मामले में रिपोर्ट तलब की है।

नई दिल्ली(4 मई): पाकिस्तान के क़ायदे-आज़म मोहम्मद अली जिन्ना की तस्वीर उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी (एएमयू) में क्यों? बीजेपी सांसद सतीश गौतम के इस सवाल पर सियासी बवाल जारी है। इस बीच सीएम योगी आदित्यनाथ ने मामले में रिपोर्ट तलब की है। मामले में कई अधिकारियों की लापरवाही उजागर हुई है और उनपर जल्द बड़ी कार्रवाई हो सकती है। AMU छात्र संघ ने मुख्यमंत्री को फैक्स भेजकर सीओ को बर्खास्त करने की मांग की है। मुख्यमंत्री तक मामले के कई वीडियो पहुंचे है जिसमें अधिकारी सिर्फ खड़े रहे और बवाल होता रहा।इससे पहले योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि भारत में जिन्ना को सम्मानित नहीं किया जा सकता है। योगी ने कहा, ''जिन्ना ने देश का बंटवारा किया। हम कैसे उन्हें सम्मानित कर सकते हैं। मैंने अलीगढ़ में हुई हिंसा को लेकर रिपोर्ट तलब की है। रिपोर्ट आने के बाद हम कार्रवाई करेंगे।''अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में जिन्ना को लेकर हिन्दू युवा वाहिनी और एएमयू छात्र संघ आमने-सामने आ गये थे जहां पुलिस को बलप्रयोग करना पड़ा, आंसूगैस के गोले छोड़ने पड़े। इस झड़प में कम से कम छह छात्र घायल हो गए। एएमयू के प्राक्टर मोहसिन खान ने बताया कि एएमयू छात्र संघ के अध्यक्ष मशकूर अहमद उस्मानी और छात्र संघ के पूर्व उपाध्यक्ष एम हुसैन जैदी घायलों में शामिल हैं।पुलिस ने स्थिति को नियंत्रित करने के लिए बलप्रयोग किया था। प्राक्टर ने बताया कि छह छात्र घायल हुए हैं हालांकि मेडिकल कॉलेज अस्पताल के अधिकारियों ने कहा है कि उन्होंने 20 घायल छात्रों का उपचार किया है।उत्तर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक ओ पी सिंह ने बताया कि राज्य सरकार स्थिति की लगातार निगरानी कर रही है। उन्होंने कहा कि रैपिड एक्शन फोर्स तैनात कर दी गयी है और राज्य सरकार किसी को शांति भंग करने की इजाजत नहीं देगी।

NEXT STORY
Top