Blog single photo

अमृतसर हमले की जांच के लिए पहुंची NIA, कई राज्यों में हाई अलर्ट

पंजाब के अमृतसर के संत निरंकारी भवन पर हुए ग्रेनेड हमले की जांच तेज हो गई है। इस आतंकी घटना की जांच के लिए केन्द्र की ओर से भेजी गई राष्ट्रीय जांच एजेंसी ने कमान संभाल ली है

विशाल एंग्रीश, न्यूज 24, चंडीगढ़ (19 नवंबर): पंजाब के अमृतसर के संत निरंकारी भवन पर हुए ग्रेनेड हमले की जांच तेज हो गई है। इस आतंकी घटना की जांच के लिए केन्द्र की ओर से भेजी गई राष्ट्रीय जांच एजेंसी ने कमान संभाल ली है। एनआईए और फॉरेंसिंग की टीम रात में निरंकारी भवन पहुंची। आज ये टीम फिर मौके पर जाएगी वहां से सबूतों को इकट्ठा करेगी। जानकारी के मुताबिक एनआई की टीम फॉरेंसिक टीम के साथ मिलकर मौके पर जाएगी और सबूत तलाशने की कोशिश करेगी। इस हमले के बाद पूरे उत्तर भारत में  हाई अलर्ट कर दिया गया है। पुलिस पंजाब और दिल्ली से सटे बॉर्डर पर सघन तलाशी अभियान चला रही है। हमले के बाद से पूरे पंजाब की सीमाओं को सील कर दिया गया है और सगन तलाशी अभियान चलाया जा रहा है। पाकिस्तान से सटे वाघा बार्डर के आस-पास भी कड़ा तलाशी अभियान चलाया जा रहा है।

वहीं इस मामले में एफआईआर दर्ज कर ली गई है। निरंकारी भवन के प्रबंधक अर्जुन सिंह ने एफआईआर दर्ज करवाई है। अमृतसर ग्रेनेड हमले की FIR के मुताबिक- आतंकी जिस बाइक से निरंकारी भवन में पहुंचे उसकी नंबर प्लेट मिसिंग थी- हमलावर काले रंग की पल्सर मोटरसाइकिल से आए थे- हमलावरों में एक सिख नौजवान जींस टी-शर्ट पहने था- दूसरा हमलावर कुर्ता पजामा पहने सिख नौजवान था जिसने चेहरे पर कपड़ा लपेटा हुआ था।- बाइक पर बैठे एक युवक ने निरंकारी भवन के गेट पर सुरक्षा के लिए तैनात किए गए 2 अनुयायियों को बंधक बनाया  - दूसरे हमलावर ने पब्लिक के ऊपर हैंड ग्रेनेड फेंकावहीं राज्य के डीजीपी के मुताबिक शुरुआती जांच में एक खास समूह पर किया गया आतंकी हमला है, लेकिन वो इसे इंटेलिजेंस फेलयर नहीं मानते हैं। उनके मुताबिक पूरे राज्य में हाई अलर्ट था लेकिन किसी खास हमले की कोई सूचना नहीं थी। पंजाब पुलिस इस मामले की अलग अलग एंगल से जांच कर रही है। हालांकि अभी तक की जांच में इसके तार पाकिस्तान और विदेशी आतंकियों की साजिश से जुड़े कुछ सबूत हाथ लगे है। हमले के पीछे पाकिस्तान की आईएसएई, कश्मीर के आतंकी संगठन और पंजाब के खालिस्तान समर्थकों के सांठ-गांठ की भी आशंका है।आपको बता दें कि अमृतसर के एक गांव में रविवार सुबह एक धमाका हुआ। इस धमाके में 3 की मौत हो गई है। वहीं 22 लोग घायल हो गए। घायलों में कई लोगों की हालत गंभीर है। मामले की जांच में राष्ट्रीय जांच एजेंसी यानी एनआईए जुट गई है। चश्मदीदों के मुताबिक बाइक सवार दो लड़कों ने अमृतसर के राजासांसी गांव में निरंकारी भवन पर ग्रेनेड फेंका। युवकों ने सत्संग के दौरान ग्रेनेड फेंका। जिस समय ग्रेनेड फेंका गया उस समय वहां करीब 250 लोग मौजूद थे। राजासांसी गांव सीमा से सटा गांव है। धमाके के बाद राजधानी दिल्ली और नोएडा की सुरक्षा बढ़ा दी गई है।

Tags :

NEXT STORY
Top