शाह का चिदंबरम पर निशाना, कहा- क्या पकोड़े बेचना शर्म की बात?

नई दिल्ली (5 फरवरी): बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने राज्यसभा में अपना पहला भाषण दिया। इसमें उन्होंने कांग्रेस सरकार पर एक के बाद एक कई हमले करते हुए अपनी सरकार की उपलब्‍िधयों को गिनवाया। शाह ने कहा कि हमें विरासत में गढ्ढे मिले थे, सरकार का बहुत सारा समय गढ्ढा भरने में ही गया है।

अमित शाह ने राज्यसभा में कहा कि 2013 में देश की जो स्थिति थी, उसे याद करने की जरूरत है। देश में विकास की गति काफी गिरी हुई थी, महिलाएं देश में सुरक्षित नहीं थीं। सीमाओं की रक्षा करने वाले जवान राजनीतिक अनिर्णय के कारण अपने शौर्य का प्रदर्शन नहीं कर पा रह थे।

शाह के भाषण के मुख्य अंश:

- GST लागू करके पूरे देश में समान टैक्स कर दिया है। पहले कहा जाता है कि बीजेपी ने जीएसटी का विरोध किया था। यह सत्य नहीं है। बीजेपी ने केवल जीएसटी के तरीकों का विरोध किया था। - एक जीएसटी के कारण देश का व्यापार बढ़ने वाला है और लघु उद्योग और छोटे व्यापारियों को इसका फायदा मिलेगा।

- पूरी दुनिया में जितने भी लोकतंत्र हैं, उन सब की योजनाओं को कोई खंगाल कर देख ले। 50 करोड़ लोगों को 5 लाख का बीमा सुरक्षा देना, किसी भी सरकार में यह साहस नहीं है। इसलिए आयुष्मान भारत को अब 'नमो हेल्थकेयर' के नाम से जनता जानेगी।

- बीजेपी की सरकार ने 6 के 6 यूरिया कारखाने फिर से शुरू कर दिए। देश का किसान जो अपना पसीना बहाता है उसे अपनी मिट्टी के बारे में मालूम नहीं होता। हमने मृदा की जांच करवाने का अभियान चलाया। - यूरिया की कालाबाजारी बड़ी मात्रा में चल रही थी। अब इंडस्ट्री में जाने वाला यूरिया बाजार में आती है। - 2016-17 में 5 करोड़ 13 लाख किसानों को फसल बीमा योजना का लाभ मिला। - यूरिया की कालाबाजारी बड़ी मात्रा में चल रही थी। अब इंडस्ट्री में जाने वाला यूरिया बाजार में आती है। - जब कुदरती आपदा आती है तो किसान का बड़ा नुकसान होता है। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना से किसानों को सुरक्षित करने का काम किया जा रहा है। यह अपने आप में पूर्ण फसल बीमा योजना है। - गरीबी हटाओ के नारे से सत्ता में बहुत लोग आए थे, लेकिन गरीबी हटाने का काम भारतीय जनता पार्टी की सरकार कर रही है। - प्रधानमंत्री सुरक्षा योजना के तहत 13 करोड़ लोगों को बीमा देना का काम कर लिया गया है। जन औषधि केंद्र के माध्यम से 800 से ज्यादा दवाइयां 10 से 20 प्रतिशत के दाम पर गरीबों को उपलब्ध करवाई जा रही हैं। - पी चिदंबरम पर साधा निशाना, कहा- 'बेरोजगारी से अच्छा है पकौड़े बेचकर पैसे कमाना। परिश्रम से पैसे कमाना। आज एक चायवाले का बेटा देश का प्रधानमंत्री है।' - स्किल इंडिया, स्टार्टअप, स्टैंडअप और मुद्रा योजना के तहत युवाओं के रोजगार के लिए काम कर रहे हैं। इंदिरा गांधी जी ने बैंकों का राष्ट्रीयकरण किया। - 2013 में देश की जो स्थिति थी, उसे याद करने की जरूरत है। - देश में विकास की गति काफी गिरी हुई थी। महिलाएं देश में सुरक्षित नहीं थीं। सीमाओं की रक्षा करने वाले जवान राजनीतिक अनिर्णय के कारण अपने शौर्य का प्रदर्शन नहीं कर पा रह थे। - विकास की पंक्ति में पीछे खड़े व्यक्ति को आगे लाना है। हमने 31 करोड़ बैंक अकाउंट खुलवाए हैं। - मैं गरीब के घर में पैदा नहीं हुआ लेकिन गरीबी देखी है। पत्तियां जलाकर महिलाएं खाना बनाती हैं। हमनें करोड़ों महिलाओं को धुआं मुक्त करने का काम किया है। - एनडीए सरकार ने फैसला लिया कि 5 साल में 5 करोड़ महिलाओं को गैस का कनेक्शन दिया जाएगा। इस बजट में 5 करोड़ के लक्ष्य को 8 करोड़ कर दिया गया है। - शास्त्री जी के बाद पहली बार नरेंद्र मोदी जी की ऐसी बात सुनी और लोगों ने गैस की सब्सिडी छोड़ दी। - गरीब के लिए घर बहुत महत्वपूर्ण है। ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों में आवास बनाने का काम शुरू हो चुका है। - स्वच्छता अभियान के साथ शौचालय बनाने के काम को जोड़ा गया। हमने 2022 तक हर घर में शौचालय बनवाने का काम शुरू किया है।