अमित शाह बोले- क्या कांग्रेस इन देश विरोधी नारों का समर्थन करती है...

नई दिल्ली (15 फरवरी): जेएनयू में लगे 'पाकिस्तान जिंदाबाद और गो इंडिया गो बैक' के नारे को लेकर सियासी पारा लगातार चढ़ रहा है। इम मामले में बीजेपी और कांग्रेस के दिग्गज नेता आमने-सामने हो गए हैं। अमित शाह ने कांग्रेस को घेरते हुए एक ब्लॉग लिखा जिसमें उन्होंने लिखा कि मोदी सरकार की सफलता से कांग्रेस हताश है और इस हताशा में राहुल गांधी देश विरोधी और देश हित में अंतर भूल गए हैं। अमित शाह ने सवाल किया है कि क्या कांग्रेस राष्ट्रभक्ति की नई परिभाषा गढ़ रही है। अमित शाह ने कांग्रेस को एक ज़िम्मेदार राजनीतिक दल की भूमिका निभाने की नसीहत भी दी है।

अमित शाह के इस बयान के बाद राहूल गांधी ने जवाब दिया कि देशभक्ति मेरे खून में है हमें सर्टिफिकेट नहीं चाहिए। इसके अलावा राहुल ने बीजेपी और आरएसएस पर राहुल गांधी ने निशाना साधा। 

अमित शाह ने राहुल के इस बयान पर कहा कि देश तोड़ने वालों का समर्थन करना भी देशद्रोह से कम नहीं है। उन्होंने कहा अफजल गुरू को भारत के सुप्रीम कोर्ट ने फांसी की सजा दी थी। लेकिन जेएनयू में नारे लगे कि 

“पाकिस्तान जिंदाबाद” “गो इंडिया गो बैक” “भारत की बर्बादी तक जंग रहेगी जारी” “कश्मीर की आजादी तक जंग रहेगी जारी” “अफ़ज़ल हम शर्मिन्दा है तेरे कातिल ज़िंदा हैं” “तुम कितने अफजल मरोगे, हर घर से अफ़ज़ल निकलेगा” “अफ़ज़ल तेरे खून से इन्कलाब आयेगा”

उन्होंने कहा कि क्या कांग्रेस अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के नाम पर इन नारों और नारा लगाने वालों का समर्थन करती है। मैं चाहता हूं कि कांग्रेस पार्टी अपना रुख साफ करे। इतना ही नहीं अमित शाह ने कहा कि देश की जमीन पर देश की किसी भी हिस्से पर इस तरह की देशद्रोही गतिविधियों को सहन नहीं करना चाहिए और न ही सहन किया जाएगा।