कांग्रेस के लिए OROP का मतलब 'ऑनली राहुल-ऑनली प्रियंका वाड्रा वन रैंक पेंशन': अमित शाह

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (28 जनवरी):  भारतीय जनता पार्टी  के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने आज हिमाचल प्रदेश के ऊना जिले में पन्ना प्रमुख सम्मेलन के दौरान 'वन रैंक-वन पेंशन' (OROP) योजना को लेकर कांग्रेस पर जमकर हमला बोला। अमित शाह ने कहा कि पीएम मोदी की वन रैंक वन-वन पेंशन योजना सेना के सेवानिवृत्त जवानों के लिए है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने भी एक वन रैंक-वन पेंशन योजना चलाई है, जिसका उल्लेख यदि मैं नहीं करूंगा तो उनके (कांग्रेस) साथ अन्याय होगा। कांग्रेस की इस योजना का मतलब है ऑनली राहुल-ऑनली प्रियंका वाड्रा वन रैंक पेंशन।

बीजेपी प्रमुख अमित शाह ने कहा, 'मोदीजी ने वन रैंक-वन पेंशन दिया, कांग्रेस ने भी वन रैंक-वन पेंशन दिया है। मैं उल्लेख नहीं करूंगा तो उनके साथ अन्याय हो जाएगा। मोदीजी ने वन रैंक-वन पेंशन दिया सेना के सेवानिवृत्त जवानों को, शहीद की विधवा को लेकिन उन्होंने (कांग्रेस) दिया ऑनली राहुल, ऑनली प्रियंका वाड्रा वन रैंक-वन पेंशन। एक नई किस्म का वन रैंक-वन पेंशन दिया। यह दोनों पार्टियों के बीच का अंतर समझाता है। हमारा वन रैंक-वन पेंशन सेना के जवानों के परिवारों के कल्याण के लिए है, उनका वन रैंक-वन पेंशन गांधी और वाड्रा परिवार के लिए है।'

भारतीय जनता पार्टी के मुखिया अमित शाह ने कहा,'मोदी सरकार बनी उसके घोषणा पत्र में एक वादा था कि हम देश के जवान को वन रैंक-वन पेंशन देंगे, देश के जवान का सम्मान करेंगे, जो अपनी जवानी को -43 डिग्री हिमाचल की चोटियों से लेकर रेगिस्तान पर +43 डिग्री पर गलाता है उसके परिवार का सम्मान करेंगे। 70 साल से किसी को देश के जवानों की यह मांग जो थी, उसको पूरा करने की सूझबूझ नहीं थी क्योंकि मन में उनके प्रति सम्मान और भक्तिभाव नहीं था। मोदीजी आए, भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनी... एक ही साल में वन रैंक, वन पेंशन का वादा मोदीजी ने पूरा कर दिया। हर साल 8 हजार करोड़ रुपया ज्यादा देश के जवानों के खाते में, रिटायर जवानों के खाते में चेक से पहुंच जाता है। आज उनके परिवार अपने परिवार की जरूरतों को पूरा कर सम्मान के साथ जी रहे हैं।'

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने कहा, 'हिमालय की कंदराओं से कन्याकुमारी तक आवाज जानी चाहिए कि 2019 में पूर्णबहुमत की मोदी सरकार बनने जा रही है।' अमित शाह ने कहा, 'मितरों, आज एक लंबे अर्से के बाद मैं देवभूमि पर आया हूं। यह देवभूमि, वीरभूमि..उसके कई सारे देवी-देवता देशभर के लोगों की श्रद्धा के केंद्र बने हैं। मैं आज इस देवभूमि-वीरभूमि को श्रद्धा के साथ नमन करके अपनी बात की शुरुआत करना चाहता हूं। हिमाचल उन राज्यों में से हैं, जिसके जवान देश की सुरक्षा के लिए अपनी जान देने से नहीं झिझकते।'

बीजेपी चीफ अमित शाह ने कहा, मोदीजी के प्रधानमंत्री बनते ही एक युद्ध संग्रहालय की शुरुआत और आज तक जिन्होंने देश के लिए अपनी जान गंवाई है, ऐसे 22 हजार से ज्यादा सेना के रणबांकुरों की स्मृति में बनाने का काम भारतीय जनता पार्टी की सरकार ने किया है।' 'यह भारतीय जनता पार्टी की जो मोदी सरकार हिमाचल प्रदेशवासियों ने बनाई, चार की चार सीटें मोदीजी की झोली में डालीं इसका परिणाम आया केंद्र में भारतीय जनता पार्टी की सरकार हिमाचल प्रदेश की माताओं-बहनों और भाइयों के आशिर्वाद से बनी। सरकार की प्राथमिकता रही कि सीमाओं की सुरक्षा करने वाले देश के जवानों के हितों की चिंता की जाए, इनके परिवारों की चिंता की जाए।