अमेेरिकी बयान से चीन-पाकिस्तान क्यों हुए परेशान, पढ़े ये खबर...

नई दिल्ली (29 जून): अमेरिका के एक ताजा बयान ने चीन और पाकिस्तान के होश उडा़ दिये हैं। अमेरिका ने कहा कि वो भारत को विश्व की प्रतिष्ठित संस्थाओं में शामिल करने का प्रयास करता रहेगा। चीन के सरकारी अखबार ग्लोबल टाइम्स में भारत को अमेरिका सहित पश्चिमी देशों का चाटुकार बताये जाने के बाद अमेरिका की ओर से यह प्रतिक्रिया आयी है। व्हाइट हाउस की प्रवक्ता  एलिज़ावेथ ट्रडो ने कहा कि अमेरिका भारत से अपनी मित्रता को निभाता रहेगा। भारत ने दुनिया में शांति बनाये रखने के प्रयासों में अतुलनीय योगदान दिया है।

आतंकवाद के खिलाफ भारत विश्व की ताकतों के साथ खड़ा है। इसलिए एनएसजी और संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में भारत का शामिल होना जरूरी है। ताकि भारत शक्ति और क्षमताओँ का उपयोग दुनिया भर में हो सके। अमेरिका के इस बयान के बाद पाकिस्तान और चीन के माथे पर चिंता की रेखाएं गहरी हो गयीं हैं। पाकिस्तान की ओर से अभी तक कोई प्रतिक्रिया नहीं मिली है, लेकिन चीन ने संतुलित प्रतिक्रिया दी है और भारत के साथ सहयोग का नज़रिया पेश किया है।