एनएसजी में भारत की एंट्री के लिए पुरजोर कोशिश करेगा अमेरिका

नई दिल्ली (8 सितंबर): अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने पीएम नरेंद्र मोदी से कहा है कि अमेरिका न्यूक्लियर सप्लायर्स ग्रुप एनएसजी में भारत की सदस्यता का पुरजोर समर्थन करेगा।

- दोनों नेताओं ने असैन्य परमाणु सहयोग और जलवायु परिवर्तन से लड़ने के अलावा सामरिक भागीदारी को मजबूत करने पर चर्चा की।

- पूर्वी एशिया शिखर सम्मेलन के इतर ओबामा के साथ मुलाकात के बाद मोदी ने ट्वीट किया।

उन्होंने लिखा, 'भारत और अमेरिका के रिश्तों पर अमेरिका के राष्ट्रपति के साथ विस्तार से चर्चा हुई।

- मोदी और ओबामा के बीच हुई अस वार्ता से चीन दबाव में है। हालांकि, चीन की ओर से कोई प्रतिक्रिया अभी नहीं आयी है। 

- माना जा रहा है कि दोनों देशों के नेताओं के तौर पर यह ओबामा और मोदी की आखिरी मुलाकात हो सकती है।

- अमेरिकी राष्ट्रपति के तौर पर ओबामा का दूसरा कार्यकाल अगले साल जनवरी में खत्म होने वाला है

- मोदी ने दोनों देशों के बीच रिश्तों में योगदान और बढ़ते भरोसे के लिए ओबामा की तारीफ की।

- उन्होंने अमेरिका के राष्ट्रपति को पद छोड़ने के बाद भारत दौरे का न्योता दिया।

- इस पर ओबामा ने कहा कि वह भारत दौरे के किसी भी मौके का स्वागत करेंगे।

- ओबामा ने मजाकिया अंदाज में कहा कि उन्होंने और उनकी पत्नी मिशेल ने अभी तक ताज महल नहीं देखा है।