Blog single photo

आतंक को पनाह देने वाले पाकिस्तान को अमेरिका ने फिर लताड़ा

अपनी नापाक हरकतों से बाज़ न आने वाले पाकिस्तान को एक बार फिर अमेरिका ने जमकर लताड़ा है। अमेरिका ने पाक को लताड़ते हुए कहा कि तमाम बार हिदायत देने के बावजूद भी पाकिस्तान ने आतंकवादियों को पनाह देना बंद नहीं किया है। अमेरिका ने कहा कि ये आतंकी कई देशों में घूम रहे हैं और अमेरिकी सैनिकों को भी अपना निशाना बना रहे हैं। बता दें कि संयुक्त राष्ट्र में अमेरिका की राजदूत निक्की हेली ने पाकिस्तान को फटकारते हुए कहा कि जब तक पाकिस्तान आतंकवाद पर नकेल कसने का काम नहीं करेगा तब तक उसे एक भी डाॅलर की मदद नहीं दी जानी चाहिए।

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (10 नवंबर): अपनी नापाक हरकतों से बाज़ न आने वाले पाकिस्तान को एक बार फिर अमेरिका ने जमकर लताड़ा है। अमेरिका ने पाक को लताड़ते हुए कहा कि तमाम बार हिदायत देने के बावजूद भी पाकिस्तान ने आतंकवादियों को पनाह देना बंद नहीं किया है। अमेरिका ने कहा कि ये आतंकी कई देशों में घूम रहे हैं और अमेरिकी सैनिकों को भी अपना निशाना बना रहे हैं। बता दें कि संयुक्त राष्ट्र में अमेरिका की राजदूत निक्की हेली ने पाकिस्तान को फटकारते हुए कहा कि जब तक पाकिस्तान आतंकवाद पर नकेल कसने का काम नहीं करेगा तब तक उसे एक भी डाॅलर की मदद नहीं दी जानी चाहिए।हेली बोली कि पाकिस्तान को तकरीबन 1 अरब डॉलर देते हैं, इसके बावजूद वो आतंकवादियों को पनाह देता है। पाक में ट्रेंड किए गए आतंकी दूसरे देशों पर हमले के साथ-साथ अमेरिकी सेनिकों को भी नुकसान पहुंचाते हैं और मौका पाकर उनकी हत्या भी कर देते हैं। हलांकि ये पहली बार नहीं है जब अमेरिका ने पाकिस्तान को उसके घटिया मंसूबों के लिए लताड़ा हो। कुछ समय पहले अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भी पाकिस्तान के पूर्व पीएम नवाज शरीफ को भी खरी खोटी सुनाई थी और आतंकवाद पर नकेल कसने की हिदायत दी थी। गौरतलब है कि तब ट्रंप ने ट्वीट करते हुए कहा था कि पाक आतंकिया का एक सुरक्षित अड्डा बना हुआ है। जो कि सारी दुनियां के लिए परेशानी का सबब बन रहा है। पाकिस्तान में चुनाव के बाद जब इमरान खान नए पीएम बने तो ऐसे कयास लगाए जा रहे थे कि अब शायद आतंकवाद को लेकर पाकिस्तान कुछ सख्ती बरतेगा।लेकिन मौजूदा हालात और पाक आर्मी के रवैये को देखकर ऐसा आभास होता है कि पाकिस्तान अपनी हरकतों से बाझ आने वाला नहीं है। भारत भी पिछले लंबे समय से पाकिस्तान को आतंक की पनाह देने वाले देश घोषित करने की कवायत कर रहा है लेकिन चीन बार-बार भारत की इस पहल में रोढ़ा अटका देता है। यही वजह है कि भारत अब तक मुंबई हमले के मास्टर माइंड हाफिज सईद को भी अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर आतंकी घोषित करने में सफल नहीं हो पाया है। हालांकि अमेरिका की पाक को ये लताड़ साफतौर से दर्शाती है कि पाकिस्तान का ये खूनी खेल ज्यादा दिनों तक चलने वाला नहीं है अगर पाक सेना आतंकवाद को पनाह देना बंद नहीं करेगी तो इस बावत अमेरिका कोई बड़ा फैसला ले सकता है।

Tags :

NEXT STORY
Top