अमेरिका में आतंकी हमला,  PM मोदी समेत दुनिया के कई नेताओं ने जताई संवेदना

न्‍यूयॉर्क (1 नवंबर): अमेरिका में वर्ल्‍ड ट्रेड सेंटर पर हुए आतंकी हमले के बाद अमेरिका पर दूसरा सबसे बड़ा आंतकी हमला है। न्यूयॉर्क के लोअर मैनहट्टन में एक ट्रक सवार ने साइकिल और पैदल पथ पर लोगों को रौंद दिया। इस हमले में 8 लोगों की मौत हो गई जबकि 10 से ज्यादा लोगों के घायल हो गए। अमेरिका पर हुए इस आतंकी हमले की दुनिया भर में आलोचना हो रही है। 

Strongly condemn the terror attack in New York City. My thoughts are with the families of the deceased & prayers with those injured.

— Narendra Modi (@narendramodi) November 1, 2017

प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट कर इस हमले की निंदा की है। आतंकी घटनाओं को रोकने के मुद्दे पर पूरी दुनिया को एक होने का संदेश देने वाले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी ट्वीट करते हुए कहा कि वह न्यूयॉर्क सिटी में हुए हमले की निंदा करते हैं। उनकी संवेदनाएं पीड़ित परिवारों के साथ है, जिन्होंने अपने लोग इस हमले में खो दिए या जिनके लोग इस हमले में घायल हुए।

Shocked to hear of terrorist attack in New York. Our condolences to bereaved families. India stands by United States #PresidentKovind

— President of India (@rashtrapatibhvn) November 1, 2017

वहीं राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ट्वीट कर कहा कि वह न्यूयॉर्क हमले के बारे में जानकर हैरान हैं। उनकी संवेदना मृतकों के परिवार के साथ है. इस दुख की घड़ी में भारत अमेरिका के साथ खड़ा है।न्यूयॉर्क के मैनहटन में हुए 'लोन वुल्फ' की तर्ज पर हुए आतंकी हमले पर पीएम नरेंद्र मोदी और राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद समेत दुनियाभर के लीडर्स ने दुख जताया है। सभी ने इस हमले की निंदा करते हुए, हमले में मारे गए लोगों के परिवारों के प्रति संवेदना जताई है।

PM: Appalled by this cowardly attack, my thoughts are with all affected. Together we will defeat the evil of terrorism. UK stands with #NYC

— UK Prime Minister (@Number10gov) October 31, 2017

ब्रिटेन की प्रधानमंत्री थेरेसा मे ने ट्वीट कर कहा कि इस कायरतापूर्व घटना से वह चकित हैं और उनकी संवदेना पीड़ितों के साथ है। उन्होंने यह भी कहा कि एक साथ होकर ही आतंक जैसे बुराई को हम हराएंगे। ब्रिटेन अमेरिका के साथ खड़ा है।

New Yorkers see this attack for what it is—an attempt to sow fear. We stand against terror as we grieve for the victims and thank the @NYPD.

— Bill Clinton (@BillClinton) October 31, 2017
 

अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति क्ल‍िंटन ने भी ट्वीट कर कहा कि न्यूयॉर्क का यह हमला हमें डराने के लिए किया गया है। हालांकि हम आतंक‍ के खिलाफ खड़े रहेंगे और इस दुख की घड़ी में हमारी संवेदना पीड़ितों के साथ है।

My thoughts, condolences and prayers to the victims and families of the New York City terrorist attack. God and your country are with you!

— Donald J. Trump (@realDonaldTrump) October 31, 2017
 

इससे पहले अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भी ट्वीट करके संवेदना जताई थी। उ्न्होंने  कहा कि मीडिल ईस्ट में हराने के बाद अब ISIS को वापस नहीं आने देंगे और न ही अमेरिका में घुसने देंगे।