US की चीन को खुली धमकी, भारत को कुछ कहा तो चुप नहीं बैठेंगे


नई दिल्ली (27 जुलाई): डोकलाम विवाद पर चीन के भड़काऊ बयानों के बीच अमेरिका ने भारत का साथ देते हुए ड्रैगन को खुली चुनौती दी है। वॉशिंगटन के स्ट्रेटेजिक एंड इंटरनेशनल स्ट्डीस के सीनियर विशेषज्ञ जैक कूपर ने साफ कहा कि अगर दोनों देशों में जंग छिड़ती है तो अमेरिका शांत नहीं बैठेगा।

कूपर ने मुताबिक अमेरिका चीन की बढ़ती शक्ति को बैलेंस करने की लगातार कोशिश कर रहा है और भारत एक ऐसा राष्ट्र है, जो उसकी इस कोशिश को अंजाम देने में अहम रोल निभा सकता है। हालांकि कूपर ने ये भी कहा कि अमेरिका के जंगी मैदान में कूद जाने की जानकारी से ही चीन मामले को सुलझाने की पूरी कोशिश करेगा।

दरअसल, डोकलाम सीमा विवाद पर बौखलाए चीन की सेना और सरकार ने भारत पर अपनी धमकियों का दौर जारी रखा हुआ है। चीनी सेना के प्रवक्ता ने भारतीय सेना को फिर धमकी दी और कहा कि अगर वे डोकलाम से पीछे नहीं हटती तो इसका अंजाम बेहद खतरनाक होगा। उन्होंने कहा कि ये हमारी पहली मांग है कि भारत डोकलाम से पहले अपनी सेना हटाए, क्योंकि हल उसी के बाद निकल पाएगा।

बता दें कि चीन की ओर से सिक्किम-भूटान-तिब्बत ट्राई जंक्शन पर अपना हक जमाने के बाद ही ये विवाद गरमाया हुआ है। चीन की ओर से डोकलाम में सड़क कार्य निर्माण शुरु किए जाने के बाद भूटान और भारत ने विरोध किया, लेकिन चीन नहीं माना। इसके बाद भारत ने अपने सैनिकों को तैनात कर दिया। मामला इस कदर गरमा गया है कि केंद्र सरकार को इस पर संसद में सफाई भी देनी पड़ी है।