Blog single photo

आज रात मंगल पर उतरेगा नासा का इनसाइट यान, खोलेगा पृथ्वी के अनसुलझे रहस्य

अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा का यान मार्स इनसाइट लैंडर आज रात लाल ग्रह यानी मंगल की सतह पर उतरेगा। यह यान ग्रह की आंतरिक संचरना का अध्ययन करने के लिए सिस्मोमीटर का उपयोग करने वाला है

Image Source: Google

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (26 नवंबर): अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा का यान मार्स इनसाइट लैंडर आज रात लाल ग्रह यानी मंगल की सतह पर उतरेगा।  यह यान ग्रह की आंतरिक संचरना का अध्ययन करने के लिए सिस्मोमीटर का उपयोग करने वाला है जिससे हमें यह पता लगाने में और मदद मिलेगी कि इसका निर्माण कैसे हुआ और यह पृथ्वी से इतना अलग क्यों है। अमेरिकी समय के मुताबिक आज दोपहर बाद करीब 2.53 बजे मंगल ग्रह की धरती पर उतरेगा। नासा की तरफ से जारी बयान के अनुसार, उतरने के कुछ ही घंटे बाद मार्स इनसाइट मंगल ग्रह की जमीन में खुदाई करते हुए नमूने जुटाकर उनकी रिपोर्ट पृथ्वी पर भेजना शुरू कर देगा। रविवार को कैलिफोर्निया के पासादेना में नासा की जेट प्रॉप्लयूजन लैब में मार्स इनसाइट की टीम ने उसके उतरने की उल्टी गिनती शुरू कर दी। नासा ने मार्स इनसाइट के उतरने का सीधा प्रसारण पूरी दुनिया में करने की तैयारी की है।

इनसाट मंगल ग्रह की जमीन में करीब 5 मीटर अंदर तक खुदाई करने के बाद वहां की गर्मी और उस ग्रह पर आने वाले भूकंपों का डाटा नासा के पास भेजेगा। इनसाइट से पहले वर्ष 2012 में ‘क्यूरोसिटी’ मंगल ग्रह पर उतरने वाला आखिरी रोवर था। इनसाइट की लैंडिंग क्यूरोसिटी के उतरने की जगह से करीब 340 मील दूर उत्तर में रखी गई है, जिससे अलग तरह का डाटा नासा को उपलब्ध हो पाएगा।

Image Source: Google

नासा के प्रशासक जिम ब्राइडेंस्टाइन ने रविवार को ट्वीट किया है कि, 'नासा दो दिनों के अंदर नासा इनसाइट के साथ मंगल पर उतर रही है। नासा के कर्मियों को धन्यवाद। इसे पूरा करते हैं और नया चरण शुरू करते हैं।' इनसाइट मंगल ग्रह के बाहरी वातावरण में 19,800 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से प्रवेश करेगा और मंगल की धरती पर उतरने से पहले आठ किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार तक कम होगा। यह चरण सिर्फ सात मिनट के अंदर पूरा होना है।

Tags :

NEXT STORY
Top