कुदरत के कहर से कराह रहा है अमेरिका, कई इलाकों बाढ़ से भारी तबाही

नई दिल्ली (30 मई): सुपर पावर अमेरिका कुदरत के कहर से कराह रहा है। बाढ़ ने अमेरिका को बेहाल कर रखा है। सड़कें नदी बनी हुई हैं और सड़कों पर दौड़ने वाली कारें तिनके की तरह बह रही हैं। कई जगहों पर बत्ती गुल हो गई हैं। कई राज्यों में सराकर ने अलर्ट जारी की कर दिया है। बाढ़ की वजह से कई लोग लापता हैं। बाढ़ और बर्बादी की तस्वीरें देखकर लगता है कि सुपर पावर अमेरिका को कुदरत के कहर के सामने सरेंडर करना पर गया है।

ऊंची-ऊंची खूबसूरत इमारतों के आसपास तेज़ रफ्तार से पानी बह रहा है। पानी में जगह जगह कारें फंसी हैं। जगह-जगह पेड़ टूटे पड़े हैं। कई जगह सड़कें टूटी हैं। जहां-जहां से बाढ़ का पानी गुज़रता है वहां तबाही के निशान छोड़ता जाता है। सबसे बुरा हाल मैरीलैंड प्रांत का है। यहां बाढ़ को लेकर इमरजेंसी घोषित कर दी गई है। हज़ारों लोग जहां तहां घरों में फंसे हुए हैं। सड़कों पर पानी का तेज़ बहाव होने की वजह से उनका रेस्क्यू मुश्किल हो गया है। शहर में बिजली आपूर्ती भी रूकी हुई है।वहीं अलाबामा, फ्लोरिडा और मिसिसिप्पी ने सोमवार को उपोष्णकटिबंधीय तूफान अल्बटरे से भूस्खलन की संभावना के मद्देनजर आपातकाल घोषित किया गया है। तूफान रविवार को मेक्सिको की खाड़ी के माध्यम से उत्तर की ओर बढ़ रहा है, जो फ्लोरिडा तक पहुंचकर बड़ी तबाही मचा सकता है। फ्लोरिडा के गवर्नर रिक स्कॉट ने अपने देश के सभी 67 राज्यों के लिए घोषणा जारी कर दी है। देश के आपातकाल ऑपरेशन केंद्र को सक्रिय कर दिया गया है, जबकि अलाबामा राष्ट्रीय गार्ड ने अपनी टीमों को तैयार रहने के लिए आदेश जारी किया है।