महिलाओं में कैंसर के मामले में तीसरे नंबर पर भारत

नई दिल्ली(24 सितंबर): दुनियाभर में महिलाओं के बीच कैंसर के मामलों में तेजी से बढ़ोतरी हो रही है। इसकी सबसे बड़ी वजह महिला के बीच कम जागरूकता और कैंसर का देर से पता चलना है। 

- आंकड़ों की बात करें तो, अमेरिका और चीन के बाद, भारत महिलाओं में कैंसर के मामले में तीसरे नंबर पर आता है। 

- हर साल कैंसर के मामलों में 4.5-5 फीसदी की बढ़तरी हो रही है। 

- एक्सपेंडिंग कैंसर केयर फॉर व्यूमेन इन इंडिया 2017 की रिपोर्ट के अनुसार भारत में लगभग 7 लाख लोग कैंसर पीड़ित हैं। हालांकि, वास्तविक्ता आंकड़े इससे कहीं ज्यादा है। 

- वास्तव में ये आंकड़ा 10-14 लाख के बीच है। चूकि हर साल सभी केस रजिस्टर नहीं होते हैं, इसलिए रिपोर्ट में आंकड़ों की संख्या कम दिखाई गई है। 

- बता दें कि महिलाओं में कैंसर के चलते होने वाली मौत के मामलों में भारत भी शीर्ष दो देशों में आता है। आंकड़े बताते हैं कि ग्रीवा और स्तन कैंसर में मामले, मातृ मृत्यू दर के मुकाबले 1.6-1.7 गुना ज्यादा है। 

- विश्वभर में स्तन और ग्रीवा कैंसर के मामले में भारत सबसे ऊपर है, जबकि अंडाशयी कैंसर के मामले में दूसरे नंबर पर है। 

- 2015 में जारी एक रिपोर्ट के मुताबिक कैंसर के सबसे ज्यादा मामले केरल, तमिलनाडु और दिल्ली में देखे गए हैं।