अमेरिका ने भारत के नज़रिए को दिया नया नाम कहा- ये मोदी सिद्धांत है

नई दिल्ली (10 जून): ओबामा प्रशासन ने  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की हाल में समाप्त हुई अमेरिका यात्रा को 'ऐतिहासिक' करार देते हुए भारत-अमेरिका संबंधों के उनके दृष्टिकोण को 'मोदी सिद्धांत' का नाम दिया है।   दक्षिण एवं मध्य एशिया के लिए सहायक विदेश मंत्री निशा देसवाई बिस्वाल ने कहा कि इस सप्ताह की यात्रा और इससे पहले किए गए वर्षों के प्रयास से मेरे दिमाग में सबसे महत्वपूर्ण परिणाम के रूप में वह स्पष्ट एवं दमदार दृष्टिकोण आता है जिसे अमेरिकी कांग्रेस के संयुक्त सत्र से पहले प्रधानमंत्री मोदी ने तैयार किया।

निशा ने कहा, 'इस दृष्टिकोण, जिसे मैं 'मोदी सिद्धांत' कहती हूं, ने एक विदेश नीति तैयार की जिसने इतिहास की हिचकिचाहट को दूर किया और दोनों देशों एवं हमारे साझा हितों के बीच समानता को गले लगाया है।' निशा ने 'मोदी यात्रा के सुरक्षात्मक एवं रणनीतिक परिणाम' विषय पर चर्चा के दौरान यह बात कही। इस चर्चा का आयोजन एक अमेरिकी थिंक टैंक 'हेरीटेज फाउंडेशन' और नई दिल्ली के एक थिंक टैंक 'द इंडिया फाउंडेशन' ने किया था।