गुस्से में अमर सिंह, बागी होंगे क्या?

नई दिल्ली (22 अगस्त): समाजवादी पार्टी में एक तरफ जब चाचा-भतीजे के बीच रिश्तों को लेकर के घमासान मचा है, तो वहीं दूसरी तरफ सांसद अमर सिंह ने कहा है कि बलराम यादव, शिवपाल यादव और खुद उन्हें अपमानित किया जा रहा है।

अमर सिंह को लगता है कि राज्यसभा सीट के बदले उन्हें अपमान मिला। वह मुलायम सिंह से बात करने के बाद तय करेंगे कि आगे क्या करना है...

- अमर सिंह ने कहा कि वह अपना इस्तीफा पार्टी के नेता को नहीं बल्कि हामिद अंसारी को देंगे। इस मामले में नवजोत सिंह सिद्धू उनके आदर्श हैं। -अखिलेश यादव फोन पर नहीं आते हैं, जब उनसे फोन पर बात करने की कोशिश की जाती है तो उनके सचिव कहते हैं कि आपका नाम लिस्ट में डाल दिया गया है, आपको बता दिया जाएगा। आप से बात करवा दी जाएगी। - राज्यसभा में हमको मूक बधिर बना दिया गया है। मुलायम सिंह नेता हैं या नहीं यह तय करना होगा। - मैं मुलायमवादी हूं, मुलायम सिंह की वजह से आया था। मुलायम सिंह की इज्जत करता हूं, सब चीजें मुलायम सिंह से बात करने के बाद ही तय की जाएगी। - जयाप्रदा के साथ भी अच्छा व्यवहार नहीं किया जा रहा है, उनको भी अपमानित किया जा रहा है। - मेरे लिए राजनीति से ज्यादा व्यक्तिगत रिश्ते मायने रखते हैं। अखिलेश सरकार में वही लोग ऐश कर रहे हैं जो मायावती के राज में ऐश कर रहे थे।