VIDEO: फूटा लोगों का सब्र, बैंककर्मी को दौड़ा-दौड़ाकर पीटा

इलाहाबाद (20 दिसंबर): 500 और 1000 के नोटों पर पाबंदी के बाद देशभर में नगदी का भारी किल्लत है। नोटबंदी के 42 वें दिन भी कैश के लिए देशभर में कोहराम मचा है। लोगों के बैंक अकाउंट में पैसे पड़े हैं, लेकिन कैश की कमी की वजह से वो अपनी रोजमर्रा की जरूरतों को भी पूरा नहीं कर पा रहे हैं।


लोगों को बैंक और एटीएम से चंद पैसे निकालने के लिए इस कड़ाके की सर्दी में घंटों-घंटों लाइन में खड़े रहने को मजबूर होना पर रहा है। फिर भी लोगों को पैसे नहीं मिल पा रहे हैं। लिहाजा अब लोगों का सब्र जवाब देते जा रहा है। लोग बैंककर्मियों पर गुस्सा निकाल रहे हैं। वहीं नोटबंदी को सफल बनाने में जुटे बैंककर्मियों को अब समझ में नहीं आ रहा है कि लोगों के इस गुस्से से कैसे निपटे।


इसी कड़ी में इलाहाबाद में बैंक ऑफ बड़ौदा एक ब्रांच के बाहर बैंक कर्मचारियों और लोगों के बीच भिड़ंत हो गई। बताया जा रहा है कि कैश नहीं मिलने से परेशान लोगों ने बैंककर्मियों से अभद्रता की। बताया जा रहा है कि जब बैंककर्मियों ने इसका विरोध किया तो भीड़ और उग्र हो गई। लोगों ने एक बैंककर्मी को पीटना शुरू कर दिया। बाद में किसी तरह उग्र भीड़ पर काबू पाया जा सका।


देखें वीडियों...