सरहद से लेकर समंदर तक सेना करेगी योग

नई दिल्ली (21 जून): अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर सेना भी योग के रंग में नजर आएगी। समंदर,  एलओसी या फिर एयरबेस, हर जगह सैनिक योग करते नज़र आएंगे।

वैसे सेना में योगा रोजमर्रा की दिनचर्या का हिस्सा है लेकिन इस मौके पर सेना के तीनों अंगों में सबसे छोटी नौसेना, चाणक्यपुरी के नौसेना बाग में सुबह से योग के आसन में जुट जाएगी। नौसेना प्रमुख एडमिरल सुनील लांबा की अगुवाई में करीब चार सौ नौसैनिक योग करेंगे। नौसेना प्रवक्ता कैप्टन डीके शर्मा ने बताया कि केवल दिल्ली में नहीं बल्कि देश-विदेश में जहां कहीं भी हमारे युद्धपोत तैनात हैं वहां, नौसेनिक अपने दिन की शुरुआत योग से करेंगे।


आसमान में सरहद की हिफाजत करने वाली वायुसेना भी योग में कहां पीछे रहने वाली है। तीसरे अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर वायुसेना ने देशभर के सभी एयरबेस को निर्देश जारी कर कहा है कि वे 21 जून को योगाभ्यास करें। नई दिल्ली के एयरफोर्स स्टेशन पर करीब 800 वायुसैनिक योग की अलग-अलग मुद्रा में नजर आएंगे।

थल सेना ने योग दिवस की पूरी तैयारी कर ली है। थार के रेगिस्तान से लेकर बर्फ के पहाड़ों तक में जवान योगाभ्यास करेंगे। मुख्य समारोह दिल्ली कैंट में होगा जहां हजारों की तादाद में जवान योग करते दिखेंगे।