अलप्पो में 500 मौतों के बाद भुखमरी की मार

अलप्पो (21 अक्टूबर): पिछले 5 साल में सीरिया का खूबसूरत अलप्पो शहर खंडहर बन चुका है। अलप्पो पर इतना बारूद गिरा है कि कोई घर साबुत नहीं बचा। इस जंग में बमबारी से अलप्पो के 500 लोग मारे गए हैं और 2000 से ज्यादा घायल हुए हैं। इस शहर के लोगों को पहले बमों ने मारा और अब अलप्पो के बच्चे भुखमरी का शिकार हो रहे हैं।

पांच साल पहले तक सीरिया का जो शहर ना सिर्फ जिंदा था बल्कि जिंदगी से गुलजार भी था। अलप्पो इतना खूबसूरत था कि पर्यटक यहां घूमने आते थे। पांच साल पहले तक इस शहर में दस लाख लोग बसते थे, लेकिन 2011 में सब बदल गया। इस शहर पर हजारों-लाखों टन बारूद और बड़े-बड़े बम बरसे। आतंकियों ने आतंक का ऐसा तांडव खेला कि इस पूरे शहर को खंडहर बना कर रख दिया।

संयुक्त राष्ट्र महासचिव बान की मून ने 5 साल में खंडहर बन गए इस शहर पर गहरी चिंता ज़ाहिर की है। अलेप्पो में पिछले पांच सालों में सबसे भीषण बमबारी हुई है। रूस और सीरिया के विमानों से हुए हमले से अब तक अलेप्पो में हुई बमबारी में करीब 500 मौतें हुई हैं। बमबारी में करीब 2000 लोग घायल हुए हैं।

अलेप्पो में अब महज एक माह के लायक ही राशन बचा है। खंडहर बन चुका अलप्पो अब भुखमरी के कगार पर है।