सीरिया में 24 घंटे में 200 हवाई हमले, करीब 100 लोग मारे गए

नई दिल्ली (24 सितंबर): सीरिया के शहर अलेप्पो में लोग इधर-उधर भाग रहे हैं। कोई मां अपने बच्चे को कलेजे से लगाए बिलख रही है तो कोई पिता अपनी मासूम बेटी को मलबे में दबा मजबूर होकर देख रहा है तो वहीं कुछ परिवार बचा-खुचा सामान बचाने की जद्दोजहद में हैं। करीब 100 लोग मारे गए हैं। इनमें ज्यादातर बेगुनाह आम लोग शामिल हैं। शहर का यह हाल हुआ है सीरियाई सेना के साथ रूसी फाइटर जेट से विद्रोहियों के कब्जे वाले इलाके में की गई बमबारी के कारण। शहर की तस्वीरें दिल दहला देने वाली हैं।

24 घंटे में 200 हवाई हमले... - सीरिया और रूस की सेना ने मिलकर फाइटर जेट से शुक्रवार और शनिवार के बीच करीब 200 बार हवाई हमले किए हैं। इसमें करीब 100 लोगों की मौत हुई है। - हमले में ज्यादातर बेगुनाह लोग मारे गए हैं जिनमें कई मासूम बच्चे भी हैं। - मलबे में कई लोग दबे हुए हैं। कई घायल हुए हैं, जिससे मौत का यह आंकड़ा बढ़ने की आशंका है।

20 लाख लोग पानी को तरसे... - हमले में अलेप्पो और आसपास के हिस्से में वाटर सप्लाई का सिस्टम बर्बाद हो गया है, जिससे 20 लाख की आबादी पानी के लिए तरस रही है। - हमलों में रेस्क्यू ग्रुप व्हाइट हेलमेट को भी नहीं बख्शा गया है। - अंसारी डिस्ट्रिक्ट में ग्रुप का हेडक्वार्टर बुरी तरह डैमेज हुआ है। - एक्टिविस्ट्स का दावा है कि बैरल और वैक्यूम बमों से हमला किया गया है।

एक फैमिली के 15 लोगों की मौत, 40 बिल्डिंग तबाह... - हमले की चपेट में बशकतीन शहर भी आया। यहां एक ही फैमिली के 15 लोग मारे गए। - वॉलंटियर रेस्क्यू ग्रुप 'व्हाइट हेलमेट' के मुताबिक हमले में 40 बिल्डिंग तबाह हो गईं हैं। इस रेस्क्यू ग्रुप की तीन एंबुलेंस और दो हॉस्पिटल्स पर भी बम गिराए गए हैं। - 2012 से सीरिया की कमर्शियल कैपिटल रहे अलेप्पो के वेस्टर्न हिस्से पर सरकार और ईस्टर्न पर विद्रोहियों का कब्जा है। - विद्रोहियों के कब्जे वाले हिस्से में ढाई लाख लोग रह रहे हैं, जिसकी वजह से सेना के हमले में बड़ी संख्या में आम नागरिक मारे जा रहे हैं।

5 साल की बच्ची मलबे से जिंदा निकाली गई... - इस बीच शुक्रवार को बाब अल-नैराब में हमले के बाद मलबे से एक पांच साल की बच्ची को जिंदा बचाने का वीडियो वायरल हो गया है। - कई सोशल मीडिया साइट्स पर पोस्ट इस वीडियों में रेस्क्यू मेंबर बच्ची को बाल पकड़कर बाहर निकालते दिख रहा है। - बच्ची की पहचान रवन अलोश के तौर पर हुई है। इस हमले में उसकी मां, पिता और चारों भाई-बहन मारे गए। - एक अन्य फुटेज में दो-तीन साल के एक बच्चे को रेस्क्यू मेंबर बचाते दिख रहे हैं।

सीजफायर को लेकर बातचीत विफल होने के बाद हुआ हमला... - यूएस के विदेश मंत्री जॉन केरी और रूस के विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव ने इस मुद्दे पर बातचीत के लिए न्यूयॉर्क में मिले। - यूएस ने रूस से कहा कि वह सीरियान गवर्नमेंट की एयरफोर्स को हमला करने से तुरंत रोकने का वादा करे, लेकिन रूस से ऐसा करने से इनकार कर दिया। इसके बाद इंटरनेशनल सीरियन सपोर्ट ग्रुप की मीटिंग खत्म हो गई।