सीरिया-रूस ने अलेप्पो में गिराए बम, दर्जनों बच्चों की मौत

नई दिल्ली(24 सितंबर): सीरिया में विद्रोहियों के कब्जे वाले पूर्वी अलेप्पो में शुक्रवार को हवाई हमलों में 91 लोगों की मौत हो गई। सीरियन और रशियन फाइटर जेट्स के इस हमले में मरने वाले ज्यादातर लोग आम नागरिक और बच्चे हैं।  

- इस बीच इंटरनेशनल मीडिया और सोशल नेटवर्किंग साइट्स पर हमले के बाद की कई फोटोज शेयर की गई हैं, जिनमें खून और मलबे से लथपथ बच्चे नजर आ रहे हैं। 

- बता दें कि सीरिया में सीजफायर को लागू करने को लेकर अमेरिका और रूस की बातचीत विफल होने के बाद ये ताजा हमले हुए। 

- एक्टिविस्ट्स का दावा है कि गवर्नमेंट और रशियन प्लेन ने बैरल और वैक्युम बमों से हमला किया। 

- एक्टिविस्ट्स के मुताबिक, हमले की चपेटट में अलेप्पो के पश्चिम में स्थित बशकतीन शहर भी आया। यहां एक ही परिवार के 15 लोग मारे गए, जो एक रेसिडेंशियल बिल्डिंग में रुके हुए थे।

- वॉलंटियर रेस्क्यू ग्रुप 'व्हाइट हेलमेट' ने बताया कि फाइटर जेट्स से गिराए बमों से 40 बिल्डिंग्स तबाह हो गईं। इसके अलावा इस रेस्क्यू ग्रुप की तीन एंबुलेंस और दो हॉस्पिटल्स पर भी बम गिराए गए। 

- अंसारी डिस्ट्रिक्ट में व्हाइट हेलमेट ग्रुप का हेडक्वार्टर भी बुरी तरह डैमेज हुआ है।

- सीरिया में मेडिसिन्स सैन्स फ्रंटियर्स मिशन के हेड कार्लोज फ्रैंसिस्को ने बताया कि कई एरिया में बड़ी संख्या में घायल और बीमार लोग रह रहे हैं, जो कहीं नहीं जा सकते। 

- कभी सीरिया की कमर्शियल कैपिटल रहा अलेप्पो के वेस्टर्न हिस्से पर गवर्नमेंट और ईस्टर्न पर विद्रोहियों का कब्जा है। 

- विद्रोहियों ने 2012 से ईस्टर्न हिस्से पप कब्जा कर रखा है और यहां 2,50,000 लोग रह रहे हैं। सेना के हमले में आम नागरिक बड़ी संख्या में मारे जा रहे हैं।