उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड: 81 हुई जहरीली शराब पीकर मरने वालों की संख्या

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (9 फरवरी): उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में जहरीली शराब पीने से मरने वालों की तादाद  बढ़कर 81 तक पहुंच गई है। जहरीली शराब पीने से अकेले सहारनपुर में ही 54 लोगों की मौत की खबर है, जबकि कुशीनगर में जहरीली शराब ने 11 लोगों की जान ले ली है। वहीं उत्तराखंड के रुड़की में भी 16 लोगों की मौत की खबर है। जहरीली शराब से कई लोग गंभीर रूप से बीमार भी बताए जा रहे हैं, जिनका अस्पतालों में इलाज चल रहा है। यूपी में जहरीली शराब से हुई मौतों के बाद विपक्ष हमलावर हो गया है। कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि योगी सरकार के भ्रष्टाचार और कुव्यवस्था के कारण ये हादसा हुआ है।

यूपी और उत्तराखंड में जहरीली शराब पीकर मरने वालों का आंकड़ा लगातार बढ़ता जा रहा है। अब तक यूपी और उत्तराखंड से 81 लोगों के मरने की खबर आ रही है। जहरीली शराब का सबसे ज्यादा कहर यूपी के सहारनपुर से सामने आ रहा है। सहारपुर में जहरीली शराब पीकर मरने वालों की तादाद 54 तक पहुंच गई है। सहारनपुर में शराब पीने के बाद सौ से ज्यादा लोग अभी भी अस्पताल में एडमिट हैं। ऐसे में मरने वालों की तादाद और ज्यादा बढ़ने की आशंका जाहिर की जा रही है। यूपी के कुशीनगर में भी जहरीली शराब पीने से 11 लोगों की मौत हो गई है। उत्तराखंड में भी जहरीली शराब पीकर मरने वालों की तादाद बढ़ गई है। रुड़की में जहरीली शराब ने अब तक 16 जानें ले ली हैं।

न्यूज 24 ने सहारनपुर के उन गांवों के लोगों से भी बातचीत की, जहां पर जहरीली शराब की वजह से मौतें हुई हैं। गांव के लोगों ने बताया कि उनके परिजनों ने गांव से ही शराब खरीदी थी। बीस रुपये में गांव में उपलब्ध शराब के नशे ने ही उनके अपनों को हमेशा हमेशा के लिए छीन लिया। यही नहीं न्यूज़ 24 की टीम उस गांव तक भी पहुंचने में कामयाब रही जहां से जहरीली शराब की ये खेप जगह-जगह भेजी गई। मृतकों में सबसे ज्यादा इसी गांव से ताल्लुक रखते हैं। हैरानी इस बात की है कि अगर मौत के सौदागरों के ठिकानों तक मीडिया इतनी आसानी से पहुंच रही है तो सहारनपुर के कई घरों को श्मशान में तब्दील करने वाले लोगों तक पुलिस अभी तक क्यों नहीं पहुंच पाई है।

ज़हरीली शराब की वजह से कई लोगों की मौत के बाद प्रशासन भी हरकत में आया है। जगह-जगह पुलिस छापेमारी कर रही है। रुड़की में प्रशासन और पुलिस की टीम की ऐसी ही एक छापेमारी के दौरान अवैध शराब के बड़े कारोबार का भंडाफोड़ हुआ है। यूपी त्तराखंड सरकार ने ज़हरीली शराब के खिलाफ कार्रवाई करनी शुरु कर दी। कुशिनगर-सहारनपुर के आबकारी अधिकारी निलंबित कर दिए गए हैं, थान इंचार्ज को भी हटा दिया गया है। सरकार ने पूरे प्रदेश में शराब कारोबार के खिलाफ जांच के आदेश दे दिए हैं। जगह-जगह पुलिस छापेमारी कर रही है।