मस्जिद पर आतंकी हमले का लेंगे बदला: मिस्र के राष्ट्रपति

नई दिल्ली ( 25 नवंबर ): मिस्र ने मस्जिद पर हुए बर्बर आतंकी हमले की बदला लेने की बात कही है। मिस्र के राष्ट्रपति अब्देल फतह अल सीसी ने शुक्रवार को सिनाई प्रायद्वीप की एक मस्जिद पर हुए बर्बर आतंकी हमले का बदला लेने की प्रतिबद्धता जताई है। इस हमले में 270 लोगों की मौत हो गई थी जबकि 100 से अधिक लोग घायल हो गए थे। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, अब्देल फतह अल सीसी ने टेलीविजन संबोधन में कहा कि यह देश के इतिहास में अब तक का सबसे भयावह आतंकवादी हमला है। 

अल सीसी ने कहा कि मिस्र के सुरक्षाबल इन मौतों का बदला लेंगे, क्षेत्र में स्थिरता बहाल करेंगे और इन आतंकवादी हमलों का मुंहतोड़ जवाब देंगे। उन्होंने कहा, 'यह आतंकवाद से निपटने के लिए किए जा रहे हमारे प्रयत्नों को रोकने का प्रयास था। यह हमारी इच्छाशक्ति को खत्म करने का प्रयास था।' 

अल सीसी ने कहा, 'हम अपने प्रयास जारी रखेंगे। जैसा कि मैंने कहा, इस हमले से हमारी प्रतिबद्धता बढ़ेगी। हमारी सेना और पुलिस शहीदों की मौत का बदला लेंगे और अगले कुछ दिनों में स्थिरता और सुरक्षा की बहाली करेंगे।' राष्ट्रपति ने देश में 3 दिन के राष्ट्रीय शोक का ऐलान किया है। अभी तक किसी भी आतंकवादी संगठन ने इस हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है।