बीजेपी को हराने के लिए सीटों की कुर्बानी को तैयार: ​अखिलेश यादव

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (11 जून): उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के नेता अखिलेश यादव ने गठबंधन को लेकर बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा कि बीजेपी को सत्ता से बाहर करना उनका लक्ष्य है और इसके लिए वह 2019 में बीएसपी के साथ मिलकर चुनाव लड़ेगी। गौरतलब है कि वह रविवार को मैनपुरी में जिले के जउराई गांव के पूर्व प्रधान की प्रतिमा का अनावरण करने गए थे।यादव ने कहा कि वह बीजेपी के हर प्रत्याशी की हार देखना चाहते हैं और इसके लिए किसी के साथ भी गठबंधन को तैयार हैं। इतना ही नहीं, अखिलेश ने यह भी कहा कि वह सीटों को लेकर भी समझौता करने को तैयार हैं। अगर ऐसा करने से बीजेपी को आम चुनाव में हराया जा सकता है तो वह ये रास्ता भी अपनाएंगे।  यादव ने कहा कि नेहमारा बीएसपी के साथ गठबंधन है और यह जारी रहेगा। बीजेपी को हराने के लिए अगर दो-चार सीटों का बलिदान भी करना पड़ा तो हम पीछे नहीं हटेंगे।''दरअसल, अखिलेश की ओर से दावा किया कि प्री-पोल गठबंधन के चलते हालिया उपचुनावों में जीत मिली है। यह गठबंधन आगे की बरकरार रहेगा। अखिलेश ने सीएम योगी आदित्यनाथ पर निशाना साधते हुए कहा कि बीजेपी हालिया उपचुनावों में हर वह सीट हार गई जहां योगी ने पार्टी के लिए चुनाव प्रचार किया।जानकारी के लिए आपको बता दें कि मायावती पहले ही सीटों पर बातचीत होने के बाद ही गठबंधन को लेकर तैयार हैं। ऐसी उम्मीद है कि आगामी लोकसभा चुनाव में सपा, बसपा और कांग्रेस मिलकर चुनाव लड़ सकती हैं। बहराल, इन सभी राजनैतिक दलों का भाजपा के खिलाफ एक साथ आना साफतौर से दर्शाता है कि ये दल किसी भी कीमत पर भाजपा को सत्ता से दखल रखना चाहते हैं फिर चाहे इसमें उनका खुद का नुकसान ही क्यों न हो जाए।