बर्खास्त सपा नेताओं की वापसी हो: अखिलेश यादव

अशोक कुमार तिवारी, लखनऊ (27 सितंबर): हाल में मुलायम कुनबे में मचे घमासान के दौरान पार्टी के बड़े नेताओं के खिलाफ नारेबाजी करने वाले जिन सपा नेताओं को पार्टी से बाहर निकाला गया, अब मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने उन नेताओं की पार्टी में वापसी की मांग की है। अखिलेश ने कहा है की नौजवान नेताओं ने मेरे पक्ष में नारेबाजी की थी, किसी के खिलाफ नहीं। यही नहीं अखिलेश ने पड़ोसी देशों से लड़ाई नहीं, बल्कि अच्छे संबंधों की बात कही है।

दरअसल मुख्यमंत्री अखिलेश यादव लखनऊ में मेगा कॉल सेंटर के उद्घाटन के मौके पर संबोधित कर रहे थे। इस मौके पर अखिलेश यादव ने हाल में मुलायम कुनबे में मचे घमासान के दौरान नारेबाजी करने वाले सपा नेताओं की बहाली की मांग की है, जिन्हें समाजवादी पार्टी से निष्कासित कर दिया गया था। अखिलेश ने कहा की सपा के नौजवान नेताओं ने उनके पक्ष में नारेबाजी की थी, किसी के खिलाफ नहीं। अखिलेश ने कहा की पार्टी के वरिष्ठ नेता अनुभवी है, उन्हें इस दिशा में विचार करना चाहिए।

यही नहीं इस मौके पर अखिलेश ने एक बार वो बात दोहराई कि कई बार हम लोगों को ये ग़लतफ़हमी हो जाती है की हमें हर कोई जनता है, लेकिन दिक्कत ये है कई बार मुझे ही लोग नहीं पहचानते है। हाल में एक परिवार मुझसे मिला था वो भी मुझे नहीं जनता था, लेकिन नई पीढ़ी मुझे ज्यादा पहचानती है।

अखिलेश ने कहा की हम मेगा कॉल सेंटर शुरू कर रहे हैं तो उसका फीडबैक भी लेंगे। आखिर पुरानी सरकार के हाथी कैसे फोन उठाएंगे, जिन्होंने ज़िंदा रहते मूर्ति लगवा दी। जिनके हाथ में बैग है वो क्या फीडबैक लेंगे। इस मौके पर अखिलेश ने पडोसी मुल्कों से अच्छे रिस्ते और बातचीत बने रहने की बात भी कही, क्योंकि लड़ाई कोई समाधान नहीं है।