अखिलेश यादव ने प्रधानमंत्री मोदी को लिखा पत्र

नई दिल्ली (27 जनवरी): यूपी के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने प्रधानमंत्री मोदी को चिट्ठी लिखी है, जिसमें उन्होंने कहा है कि आम बजट चुनावों के बाद पेश होना चाहिए। ताकि उत्तर प्रदेश के विकास और जनता के हित में योजनाओं की घोषणा हो सके।अखिलेश ने अपने पत्र में चुनाव आयोग की ओर से भारत सरकार को 23 जनवरी को जारी किए गए पत्र का हवाला देते हुए लिखा है। इस पत्र में आयोग ने निर्देश दिया है कि भारत सरकार के आगामी बजट में चुनाव आचार संहिता से प्रभावित पांच राज्यों के हित में कोई भी विशेष योजना घोषित नहीं की जाए।सीएम ने कहा कि ऐसी स्थिति में अब प्रबल संभावना बन गई है कि यूपी, जहां देश की सबसे बड़ी आबादी निवास करती है, को भारत सरकार के आम बजट का कोई विशेष लाभ या योजना मिलने नहीं जा रही है। इसका सीधा प्रतिकूल प्रभावत प्रदेश के विकास कार्यों और यहां के 20 करोड़ निवासियों के हितों पर पड़ेगा।अखिलेश ने याद दिलाया कि फरवरी-मार्च 2012 में भी राज्यों के आम चुनावों को देखते हुए तत्कालीन केंद्र सरकार ने चुनावों की निष्पक्षता बनाए रखने के लिए खुद ही निर्वाचन के बाद सामान्य और रेल बजट पेश किया था। उत्तर प्रदेश में 11 फरवरी से 8 मार्च के बीच सात चरणों में विधानसभा चुनाव हो रहे हैं। कांग्रेस और समाजवादी पार्टी के अखिलेश धड़े के बीच गठबंधन के बावजूद बहुकोणीय मुकाबला होने की उम्मीद है।