नेताजी कहते तो इस्तीफा दे देता- अखिलेश

 

लखनऊ(24 अक्टूबर): समाजवादी पार्टी के घर का झगड़ा अपने चरम पर है। पार्टी टूट के कगार पर खड़ी है। लखनऊ में पार्टी की बैठक में सीएम अखिलेश यादव ने जमकर अपना बचाव किया है। उन्होंने अपने भाषण के दौरान इस्तीफे की पेशकश की। हालांकि, बोलते-बोलते अखिलेश उनका गला भर आय। 

- इस झगड़े का ठिकरा शिवपाल के सिर पर फोड़ते हुए अखिलेश ने कहा कि अगर लगता है कि उनके हट जाने से सबकुछ ठीक हो सकता है तो वो इस्तीफा देने को तैयार हैं। अखिलेश ने कहा, “अगर नेताजी ने कहा होता तो मैं सीएम पद से इस्तीफा दे देता।”

- अखिलेश ने नई पार्टी बनाने के अटकलों को खारिज करते हुए कहा कि इस पार्टी के 25 साल पूरे हो रहे हैं और वो किसी भी हालत में नई पार्टी नहीं बनाएंगे।

- इस गरमा गर्मी के माहौल में भी अखिलेश अपनी सरकार के कामकाज की तारीफ करने से नहीं रुके।  अखिलेश ने कहा कि उनकी सरकार ने अच्छा काम किया है। इसे ही आधार बनाते हुए अखिलेश ने ये भी कहा कि चुनाव उनका है तो टिकट बांटने का अधिकार भी उन्हें मिलना चाहिए।