भावुक हुए अखिलेश, बोले- पार्टी से अलग हुआ पर पिता से नहीं, यूपी जीतकर उन्हें तोहफे में दूंगा


नई दिल्ली(31 दिसंबर): समाजवादी पार्टी के सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव ने बेटे अखिलेश यादव और रामगोपाल यादव को पार्टी से 6 साल के लिए बाहर कर दिया है। मुलायम के इस ऐलान के बाद अखिलेश के करीबी विधायक एक-एक कर उनसे मिलने सरकारी आवास पहुंचे।


- जानकारी के मुताबिक बतौर लीडर अखिलेश काफी मजबूत दिखे, लेकिन एक बेटा होने के नाते वे भावुक भी हो गए। यही नहीं, उन्होंने मीटिंग में कहा, "मुझे पार्टी से अलग किया गया है, पिता से अलग नहीं हुआ हूं। एक बार फिर यूपी जीतकर नेताजी को तोहफे में दूंगा।"


- मीटिंग में मौजूद एक विधायक ने बताया, "अखिलेश यादव के बर्खास्‍तगी की खबर मिलते ही शुक्रवार को एक-एक कर विधायक उनके आवास पर पहुंचने लगे।"


- "करीब 20 से 25 विधायक मौजूद थे। बात करते-करते कुछ देर के लिए सीएम भावुक हो गए।"


- "उन्होंने खुद को किसी तरह संभाला, लेकिन उन्होंने पहले की तरह नेताजी से जुड़ा कोई किस्सा शेयर नहीं किया।"


- "उन्होंने सबको मोटिवेट करते हुए कहा कि वे एक बार फिर यूपी जीतकर नेताजी को तोहफे में देंगे।"