यूपी-बिहार वाले बयान पर घिरे कमलनाथ, अखिलेश ने भी बताया गलत



न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (18 दिसंबर): यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी (एसपी) अध्यक्ष अखिलेश यादव ने मध्य प्रदेश के नवनिर्वाचित सीएम कमलनाथ के बयान पर नाराजगी जाहिर की है। कमलनाथ ने अपने बयान में कहा था कि उत्तर प्रदेश और बिहार से आए लोगों की वजह से मध्य प्रदेश के योग्य युवाओं को रोजगार नहीं मिल पाता। अखिलेश ने कहा कि पहले महाराष्ट्र और दिल्ली से ऐसा सुनने को मिलता था, अब एमपी भी इनमें शामिल हो गया है। उन्होंने कहा कि यह विचार गलत है।

कमलनाथ ने मुख्यमंत्री पद की शपथ लेते ही सोमवार को कहा था कि मध्य प्रदेश में ऐसे उद्योगों को निवेश की छूट दी जाएगी, जिनमें 70 प्रतिशत नौकरी मध्य प्रदेश के लोगों को मिले। कमलनाथ ने कहा था, 'बिहार और उत्तर प्रदेश जैसे राज्यों के लोगों के कारण मध्य प्रदेश के स्थानीय लोगों को नौकरी नहीं मिल पाती है।' अखिलेश ने कमलनाथ के इस बयान पर नाराजगी जाते हुए कहा कि यह गलत है।  

अखिलेश ने कहा, 'यह गलत है, अक्सर आप महाराष्ट्र से भी यही सुनते हैं। उत्तर भारतीय यहां क्यों आए हैं? उन्होंने यहां नौकरियां क्यों ली हैं? दिल्ली से और अब एमपी से भी यह सुनने को मिल रहा है। अगर ऐसा है तो उत्तर भारतीय फैसला क्यों करें कि केंद्र में किसकी सरकार होगी?' कमलनाथ के इस बयान को लेकर बिहार में भी बयानबाजी तेज हो गई है। जनता दल (यूनाइटेड) के प्रवक्ता नीरज कुमार ने कहा कमलनाथ क्षेत्रीयता को बढ़ावा देने की बात कर रहे हैं।  

बीजेपी उत्तर प्रदेश प्रवक्ता शलभमणि त्रिपाठी ने भी इसे लेकर ट्वीट किया है, 'शर्म करिए और यूपी-बिहार के लोगों से माफी मांगिए राहुल गांधीजी। वरना आपको यूपी-बिहार में घुसने नहीं देंगे। आपकी यही नीति रही है। महाराष्ट्र से लेकर असम तक कांग्रेस ने पूरब के लोगों का वोट लेकर उन्हीं को मरवाया, अपमानित किया। अब एमपी में भी यह घटिया खेल। शर्म करो।'