BREAKING: जरूरत पड़ी तो मायावती से गठबंधन करेंगे- अखिलेश यादव

नई दिल्ली (9 मार्च):  उत्तर प्रदेश में सातों चरणों की वोटिंग खत्म हो चुकी है। अब 11 मार्च को वोटों की गिनती होगी। वहीं इससे पहले समाजवादी पार्टी अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव का बड़ा बयान आया है। अखिलेश यादव ने कहा है कि अगर सूबे में एसपी-कांग्रेस की गठबंधन को सरकार बनाने के लिए पूर्ण बहुमत नहीं मिला तो वो बीएसपी यानी मायावती से भी हाथ मिला सकते हैं। अखिलेश यादव का कहना है कि राज्य में राष्ट्रपति शासन के बेहतर है कि वो मायावती से हाथ मिला लें। 

अखिलेश यादव ने BBC से कहा कि जरूरत पड़ी तो वो मायावती से गठबंधन कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि बीजेपी की सत्ता में आने से बेहतर है कि वो बीएसपी से गठबंधन कर लें।

उत्तर प्रदेश में किसी भी दल को पूर्ण बहुमत न मिलने की स्थिति में समाजवादी पार्टी की रणनीति क्या होगी? इस पर अखिलेश यादव ने कहा कि "हां अगर सरकार के लिए ज़रूरत पड़ेगी तो राष्ट्रपति शासन कोई नहीं चाहेगा। हम नहीं चाहते कि यूपी को बीजेपी रिमोट कंट्रोल से चलाए।