योगी पर अखिलेश का हमला, गोरखपुर में हिंदू बच्चे मरे, कितनों को इंसाफ दिया?


नई दिल्ली ( 30 अगस्त ): पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव बुधवार को आजमगढ़ पहुंचे। यहां उन्होंने थाना जियनपुर कोतवाली के ग्राम नत्थूपुर में अमर शहीद रामसमुझ यादव की प्रतिमा का अनावरण किया। अखिलेश यादव ने कहा कि मैं यूपी के मुख्यमंत्री से पूछना चाहता हूं कि उन्होंने गोरखपुर में क्या किया। गोरखपुर में सबसे अधिक हिन्दू बच्चों की मौत हुई है। अखिलेश ने सवाल किया कि योगी जी ने किसी की सहयता की? उन्होंने कहा कि सरकार ने कोई मदद नहीं की। हम पर मुसलमानों की मदद करने का आरोप लगता रहा है। 

उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा ने साजिश के तहत पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे का काम रोक दिया है। इस दौरान अखिलेश ने वादा किया कि सत्ता में आते ही सबसे पहले वे इस एक्सप्रेस वे का काम शुरू कराएंगे।

अखिलेश यादव ने कहा कि हमने भारतीय हॉकी खिलाड़ी ध्यानचंद के पुत्र को यश भारती सम्मान दिया। अखिलेश यादव ने केंद्र और राज्य सरकार पर आरोप लगाया कि यश भारती सम्मान बंद कर भाजपा सरकार ने शहीदों और खिलाड़ियों का अपमान किया है। साथ ही दुश्मनों के दांत खट्टे करने वाले सैनिकों को यह पुरस्कार दिया।

अखिलेश ने कहा कि सूबे की योगी सरकार ने उनकी पेंशन भी छीन ली। उन्होंने यह भी कहा, भाजपा कहती है कि हम लोगों में भेदभाव करते हैं। भाजपा कहती है कि हमने अपने खास लोगों को यश भारती सम्मान दिया। अखिलेश ने कहा, आप भी अपने खास लोगों को यह सम्मान दे दें, हम कौन सा आपको रोक रहे हैं।

योजनाओं के नाम बदलने पर सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि जो बोओगे, वही काटोगे। हम नाम बदलेंगे तो बुरा मत मानना। उन्होंने कहा कि हमारे एमएलसी और जिला पंचायत सदस्यों को 'प्रसाद' देकर तोड़ा जा रहा है।