BREAKING: समाजवादी पार्टी में बड़ी फूट, अखिलेश समर्थक नेता अलग से लड़ेंगे चुनाव

लखनऊ (29 दिसंबर): विधानसभा चुनाव से ऐन पहले समाजवादी पार्टी में एकबार फिर घमासान तेज हो गया है। और पार्टी टूट की कगार पर पहुंच गई है। मुलायाम सिंह के बेटे और सूबे के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने आज लखनऊ में टिकट कटने वाले अपने समर्थक नेताओं के साथ बैठक और उन्होंने भरोसा दिया कि वो हर हाल में उनके साथ हैं। बताया जा रहा है कि जिन प्रत्याशियों का टिकट काटा गया, उनसे अखिलेश यादव ने कहा चुनाव की तैयारी करें। इतना ही नहीं, अखिलेश यादव जल्द ही अपने उम्मीदवारों की लिस्ट जारी कर सकते हैं।इस बैठक के बाद अखिलेश यादव अपने पिता और पार्टी प्रमुख मुलायम सिंह से मिलने पहुंचे। बताया जा रहा है कि इस मुलाकात के दौरान उन्होंने मुलायम सिंह के सामने जमकर अपनी नाराजगी जाहिर की और कहा कि पार्टी और उनके खिलाफ कुछ लोग साजिश कर रहे हैं।दरअसल यूपी चुनाव से पहले समाजवादी पार्टी और मुलायम सिंह के कुनबे में अब टिकट बंटवारे को लेकर फिर लड़ाई छिड़ गई है। मुलायम सिंह यादव ने बुधवार को विधानसभा चुनाव के लिए सपा के 325 उम्मीदवारों की लिस्ट जारी की तो अखिलेश के कई समर्थकों का पत्ता साफ कर दिया। चाचा शिवपाल की पसंद को लिस्ट में देखकर सपा में फिर अंदरखाने लड़ाई शुरू हो गई है। सीएम अखिलेश ने अपने समर्थक विधायकों की बैठक बुलाई।पार्टी अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव द्वारा जारी लिस्ट में अखिलेश के कई समर्थकों के नाम नहीं हैं। इनमें- पवन पांडे, अरविंद गोप, अरुण वर्मा जैसे विधायकों का पत्ता साफ हो गया जो अखिलेश के काफी करीबी माने जाते हैं। दूसरी ओर से इस लिस्ट में चाचा शिवपाल यादव के समर्थकों की प्रभुत्व साफ तौर पर दिख रहा है। शिवपाल के खेमे के ओम प्रकाश सिंह, साहेबी फातिमा यहां तक कि बाहुबली अतीक अहमद का नाम भी लिस्ट में शामिल है।