चाचा-भतीजे में हुई सुलह, शिवपाल लड़ेंगे चुनाव


लखनऊ (19 जनवरी): लंबे सियासी घमासान के बाद अब समाजवादी पार्टी में सबकुछ सामान्य होता दिख रहा है। पिता मुलायम और पुत्र अखिलेश में सुलह के बाद अब चाचा शिवपाल और भतीजे अखिलेश के बीच भी घमासान खत्म होता दिख रहा है। शिवपाल यादव चुनाव लड़ने के लिए तैयार हो गए हैं। बताया जा रहा है कि शिवपाल यादव जसवंत नगर से ही चुनाव लड़ेंगे।


समाजवादी पार्टी में घमासान खत्म होने के बाद पहली बार सैफई पहुंचे शिवपाल यादव ने पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि पिछले दिनों जो कुछ हुआ उसके बाद उनका चुनाव लड़ने का मन नहीं हो रहा है, लेकिन आप लोगों को नहीं छोड़ सकता। लिहाजा जसवंतनगर से ही चुनाव लड़ूंगा।

साथ ही उन्होंने कहा कि भीतर घात करने वालों की वजह से ही पिछले दिनों पार्टी में इतना कुछ हुआ। शिवपाल यादव ने कहा कि उनके पास धन और शक्ति है, लेकिन मेरे पास नेता जी हैं। मैंने सिर्फ पार्टी में गलत लोगों का विरोध किया और हमेशा करता रहूंगा।


इससे पहले खबरें आ रही थी कि शिवपाल चुनाव नहीं लड़ता चाहते हैं और वो चाहते हैं कि उनकी जगह जसवंतनगर के उनका बेटा आदित्य चुनाव लड़े। इसी कड़ी में मुलायम सिंह यादव ने 38 प्रत्याशियों की जो लिस्ट अखिलेश यादव को सौंपी थी, उसमें शिवपाल यादव की जगह आदित्य का नाम था। लेकिन अखिलेश यादव की लिस्ट में शिवपाल यादव का नाम था और अखिलेश यादव चाहते हैं वो जसवंतनगर से ही चुनाव लड़ें।