Blog single photo

भीख मांगकर इकट्ठा किए 661600 रुपये, शहीदों को किए दान

म्मू कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले में शहीद हुए 40 जवानों के परिवारों की मदद के लिए सरकार के साथ-साथ देशवासियों ने भी योगदान दिया। मगर अजमेर में एक महिला ने शहीद जवानों के परिवार की मदद

न्यूज24 ब्यूरो, संदीप टाक, अजमेर (21 फरवरी): जम्मू कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले में शहीद हुए 40 जवानों के परिवारों की मदद के लिए सरकार के साथ-साथ देशवासियों ने भी योगदान दिया। मगर अजमेर में एक महिला ने शहीद जवानों के परिवार की मदद के लिए भीख मांग पैसे जुटाकर मदद की एक मिसाल पेश कर दी।  अजमेर के चौराहे पर खड़े होकर एक रुपया, दो रुपया भीख मांगकर गुजारा करने वाली एक महिला भिखारी ने आखिरी इच्छा के तौर पर करीब 6 लाख 61 हजार 600 रुपये शहीद परिवारों को दिए गए हैं। 

इस महिला का नाम देवकी शर्मा था और छह माह पहले इनका देहांत हो चुका है। अजमेर के बजरंग गढ़ चौराहे पर माता मंदिर के पास बैठकर कई सालों से भीख मांगी और एक-एक पाई जोड़ी, रोजाना भीख में मिले पैसे मंदिर कमेटी के सदस्यों कमेटी के सदस्यों को दिया करती थी। मंदिर कमेटी के सदस्यों ने बुजुर्ग महिला का एक बैंक अकाउंट खुलवा दिया और सारे पैसा उसके खाते में जमा करवा दिए। महिला ने अपने अंतिम समय में यह कहकर प्राण त्यागे कि इन रुपयों को किसी अच्छे काम में लगाया जाए। 

मंदिर कमेटी के सचिव संजीव भार्गव ने बताया कि महिला देवकी शर्मा की अंतिम इच्छा के अनुरूप यह रुपए कमेटी किसी और काम में देती, लेकिन जो घटना पुलवामा में हुई है, उसमें शहीद परिवारों की मदद से बड़ा दूसरा कोई पुण्य का काम नहीं है। ऐसे में मंदिर कमेटी के सदस्यों ने यह रकम शहीद परिवारों तक पहुंचाने के लिए मुख्यमंत्री राहत कोष में जमा करवाया है। उन्होंने बताया कि रुपयों का ड्राफ्ट बनाकर जिला कलेक्टर को सौंपा गया है। 

बता दें की पुलवामा हमले में शहीद हुए परिवारों की मदद के लिए देश के तमाम बड़े लोगों ने हाथ बढ़ाए हैं। इस लिस्ट में अमिताभ बच्चन, सलमान खान से लेकर बड़े-बड़े उद्योगपति और खिलाड़ी शामिल हैं। 

NEXT STORY
Top