अजित डोवाल ने मंगायी रोहित बेमुला मामले की खुफिया रिपोर्ट, हुआ ये बड़ा खुलासा

नई दिल्ली (28 जनवरी): हैदराबाद यूनिवर्सिटी के रिसर्च स्कॉलर रोहित बेमुला की आत्महत्या का मामला अब एक नया मोड़ लेता दिखायी दे रहा है। अभी तक तमाम संगठन रोहित बेमुला को दलित जाति का बता कर उसके साथ भेदभाव बरतने के आरोप लगा रहे हैं। कई संगठनों ने रोहित की आत्महत्या और हैदराबाद यूनिवर्सिटी के कुलपति के व्यवहार को लेकर आंदोलन और बंद का आह्वान भी किया।

इस अतिसंवेदनशील मुददे पर राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोवाल ने खुफिया विभाग से जो रिपोर्ट मंगवायी है वो यह बताती है कि कुछ लोगों ने जानबूझ कर सरकार को बदनाम करने के लिये रोहित बेमुला को 'दलित' बताया है। जब कि उसकी मां के सरकारी दस्तावेजों के अनुसार उसका पूरा परिवार पिछड़ी जाति में दर्ज है। इस बारे में रोहित की दादी राघम्मा का विडियो स्टेटमेंट भी खुफिया विभाग की रिपोर्ट के साथ संलग्न किया गया है।

जन्म-मृत्यु रजिस्ट्रार के ऑफिस का एक ऐसा भी सुबूत दिया गया है जिसमें रोहित बेमुला की मां वी. राधिका ने स्वंय को 'वाडेरा' पिछड़ी जाति का परिवार घोषित किया है। ऐसा समझा जाता है कि आंध्र और केंद्र सरकार अब उन लोगों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई कर सकती है जो रोहित को दलित बताकर सरकार के खिलाऱ देश व्यापी आंदोलन खड़ा करने की मंशा रखते हैं।