जियो अफेक्ट: आइडिया-वोडाफोन का होगा विलय!

नई दिल्ली(29 जनवरी):  टेलिकॉम बाजार में मौजूदा नंबर वन कंपनी एयरटेल को पछाड़कर पहले पायदान पर आने का सपना देख रहे रिलायंस जियो को अब झटका लग सकता है

- टेलिकॉम मार्केट में चल रही प्राइस वॉर से निपटने के लिए आइडिया सेल्युलर और वोडाफोन की इंडियन यूनिट में विलय को लेकर बातचीत चलने की खबरें हैं। यदि ऐसा होता है तो दोनों के विलय से बनने वाली कंपनी के सबसे ज्यादा ग्राहक होंगे।

- फिलहाल एयरटेल 23 करोड़ सबस्क्राइबर्स के साथ पहले स्थान पर है। वहीं, रिलायंस के पास फिलहाल 7.2 करोड़ कस्टमर हैं। लेकिन, वोडाफोन और आइडिया के विलय के बाद इनके पास कुल 39 करोड़ कस्टमर होंगे, जो एयरटेल और रिलायंस जियो दोनों की तुलना में बहुत अधिक होंगे।

- टेलिकॉम मार्केट में सबस्क्राइबर्स के लिहाज से फिलहाल वोडाफोन दूसरे और आइडिया तीसरे नंबर की कंपनी है।

- आइडिया और वोडाफोन के विलय के बाद बनने वाली संयुक्त कंपनी के पास 40 पर्सेंट मार्केट शेयर होगा। अभी एयरटेल की टेलिकॉम मार्केट में 32 पर्सेंट हिस्सेदारी है। यदि ये दो कंपनियां एक होती हैं तो यह भारत के टेलिकॉम मार्केट में सबसे बड़ा मर्जर होगा।

- मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक दोनों कंपनियों के बीच विलय की संभावना तलाशने के लिए कई राउंड की बातचीत हो चुकी है। कयास यह भी हैं कि इसी के चलते 23 जनवरी को जारी होने वाले आइडिया के तिमाही नतीजों की घोषणा को भी टाल दिया गया था। आइडिया और वोडा के विलय के बाद नई कंपनी के उभार से टेलिकॉम सेक्टर के मौजूदा आंकड़े पूरी तरह से उलट जाएंगे।