जियो को टक्कर देने के लिए एयरटेल ने बनाई ये योजना

नई दिल्ली (2 नवंबर): जब से रिलायंस ने जियो को बाजार में उतारा है, तब से सबसे ज्यादा नुकसान टेलिकॉम कंपनी एयरटेल को हुआ है। ऐसे में जियो को टक्कर देने के लिए कंपनी ने एक खास योजना तैयार की है। कंपनी ने कहा है कि वह देश में अपने 4G नेटवर्क का विस्‍तार करने के लिए चालू वित्‍त वर्ष के दौरान 25,000 करोड़ रुपए का निवेश करेगी।

कंपनी ने अपने पहले के बजट की तुलना में 5,000 करोड़ रुपए का इजाफा किया है। एयरटेल का यह नया फैसला रिलायंस जियो की बढ़ती पहुंच के बाद आया है। भारती एयरटेल के एमडी और सीईओ (भारत और साउथ एशिया) गोपाल विट्टल के मुताबिक अगले 3-4 साल में 3जी नेटवर्क 2जी नेटवर्क की तुलना में ज्‍यादा तेजी से बंद होगा। एयरटेल 4जी टेक्‍नोलॉजी में निवेश कर रहा है। एयरटेल चीफ फाइनेंशियल ऑफि‍सर निलंजन रॉय ने कहा कि 4जी नेटवर्क बढ़ाने के लिए कंपनी ने निवेश 20 हजार करोड़ से बढ़ाकर 25 हजार करोड़ रुपए कर दिया है।

एयरटेल ने यह फैसला ट्राई की उस रिपोर्ट के एक महीने बाद लिया है, जिसमें टेलीकॉम कंपनियों की अपलोड और डाउनलोड स्‍पीड का खुलासा किया गया था। इस महीने की शुरुआत में ट्राई ने 4जी डाउनलोड स्‍पीड पर रिपोर्ट जारी की थी, जिसमें एयरटेल को 8.550 एमबीपीएस के साथ चौथे स्‍थान पर रखा गया था। रिलायंस जियो 18.443 एमबीपीएस स्‍पीड के साथ सबसे आगे थी।

मुकेश अंबानी की रिलायंस जियो द्वारा छह महीने से अधिक समय तक फ्री इंटरनेट सर्विस से डाटा उपभोग में बहुत अधिक वृद्धि हुई है। ताजा वित्‍तीय रिपोर्ट के मुताबिक चालू वित्‍त वर्ष की दूसरी तिमाही में जियो का कुल वायरलेस डाटा ट्रैफिक 378 करोड़ जीबी था।